Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्‍यूज

भोपाल।

 

एमपी में शिवराज सिंह की सरकार के खिलाफ शिक्षकों का विरोध प्रदर्शन तेज हो गया है। शनिवार को हजारों की तादाद में महिला और पुरुष शिक्षकों से मुंडन कराकर अपना विरोध दर्ज कराया।

शिक्षकों ने पांच जनवरी से अध्यापक अधिकार यात्रा निकालने का फैसला भी किया था। यह यात्रा ओंकारेश्वर और दतिया से निकाली जाएंगी, जो 13 जनवरी को भोपाल तक जाएगी।

 

शनिवार को भोपाल के जंबूरी मैदान में हजारों की संख्या में शिक्षक जमा हुए और यहां पर सामूहिक मुंडन कराया। महिला शिक्षकों ने सिर पर हल्दी का लेप भी किया। ये शिक्षक समान काम के लिए समान वेतन की मांग को लेकर विरोध करने उतरे हैं। साथ ही उनकी मांग है कि शिक्षकों के लिए एक निष्पक्ष वेतन नीति बनाई जाए ताकि किसी के साथ अन्याय न हो सके।

 

 

आजाद अध्यापक संघ के प्रांतीय महासचिव केशव रघुवंशी ने बताया कि शिक्षा विभाग की कई मांगों को लेकर लंबे समय से शिक्षक आंदोलन करते आ रहे हैं। लेकिन सरकार ने मांगों को दरकिनार किया, जिसके चलते पांच जनवरी से ओमकारेश्वर से अधिकार यात्रा शुरू की गई थी।

 

आजाद अध्यापक संघ की अध्यक्ष शिल्पी सिवान ने बताया कि सरकार मांगों को लेकर गंभीर नहीं है, नेता सिर्फ भरोसा दिलाते हैं। इसके चलते शिक्षा विभाग में मृतक अध्यापकों के परिवार के सदस्यों को अनुकंपा नियुक्ति, वेतन में गड़बड़ी, ट्रांसफर नीति, प्रमोशन और सातवें वेतनमान का लाभ देने की मांगों पर आज तक ठोस पहल नहीं हुई है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement