Hrithik Roshan Career Updates

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

लोकसभा चुनाव 2019 के प्रचार में जुटीं बीएसपी सुप्रीमों मायावती पर चुनाव आयोग के 48 घंटे के बैन के बाद अब सुप्रीम कोर्ट से भी बड़ा झटका लगा। मायावती ने चुनाव आयोग द्वारा लगाए गए बैन हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई। लेकिन सुप्रीम कोर्ट इसे खारिज कर दिया। वकील दुष्यंत दवे ने कहा की चुनाव आयोग ने बिना मायावती को अपना पक्ष रखने का मौका दिए एकतरफा कार्रवाई करते हुए उनके चुनाव प्रचार पर 48 घंटे की रोक लगा दी है।

इस आदेश को रद्द किया जाना चाहिए। इस पर सीजेआई ने कहा हमे नहीं लगता कि इसमे कोई आदेश दिया जाना चाहिए। यह कहते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मायावती की मांग खारिज की। वहीं उम्मीदवारों द्वारा जाति / धर्म के नाम पर वोट मांगने का मामले में चुनाव आयोग ने बताया कि हमने ऐसे नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की है। इस पर मुख्य न्यायाधीश ने कहा, “लगता है चुनाव आयोग को उसका अधिकार वापस मिल गया है।” इसके बाद कोर्ट ने कहा - आज हम कोई आदेश नहीं पारित कर रहे हैं।

 

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से जाति और धर्म को लेकर नेता विवादित भाषण देते आ रहे हैं। उनके भाषणों में अली और बजरंग बली का नाम लेकर भी विवादित टिप्पणियां सुनी जा रही थी। सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद ही चुनाव आयोग ने 4 बड़े नेताओं पर बड़ी कार्रवाई की है। चुनाव आयोग ने आजम खान, मेनका गांधी, मायावती और योगी आदित्यनाथ के चुनाव प्रचार करने पर रोक लगा दी है। आयोग ने योगी और आजम खान पर 72 घंटे जबकि मेनका गांधी और मायावती पर 48 घंटे के लिए रोक लगाई है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement