Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्ली।

 

बुधवार को देश की राजधानी दिल्‍ली में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। यूरोपियन मैडिटैरियन सीज्मोलॉजिकल सेंटर के मुताबिक, भूकंप का केंद्र उत्तराखंड के देहरादून से 121 किमी दूर पूर्व में था। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता पांच थी। दिल्ली-एनसीआर और उत्तराखंड के अलावा हरियाणा और पंजाब में भी झटके महसूस किए गए।

अभी तक भूकंप से किसी प्रकार के जान-माल के नुकसान की खबर नहीं है। झटके के बाद लोग घर से बाहर निकलते दिखाई दिए। बता दें कि इसी साल जून में भी दिल्ली में भूकंप आया था। रेक्टर स्केल पर उसकी तीव्रता पांच मापी गई थी।

 

 

उत्तराखंड के चमोली, उत्तरकाशी, नई टिहरी, देहरादून हरिद्वार समेत राज्य में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप के झटके आते ही लोग घरों से बाहर निकल गए। जानकारी के अनुसार करीब दस सेकेंड के लिए भूकंप के झटके महसूस किए गए। वहीं जानकारों का कहना है कि झटके दो बार महसूस किए गए।

 

रूद्रप्रयाग के जिलाधिकारी मंगेश घिल्ड़ियाल ने बताया कि बुधवार रात को जिले में रात 8.51 मिनट पर भूकंप का तेज झटका महसूस किया गया। रिएक्टर स्केल पर 5.5 मापी गई है। केदारनाथ में भी भूकंप के झटकों से भवन कांप उठे। जानकारी के मुताबिक अभी जिले में कई किसी भी तरह के नुकसान की सूचना नहीं है।

वहीं वेस्ट यूपी के मेरठ, सहारनपुर और बिजनौर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। यूपी के अलावा भी कई राज्यों में भूकंप के झटके महसूस किए गए।

 

 

क्यों आता है भूकंप?

पृथ्वी के अंदर सात प्लेट्स हैं जो लगातार घूम रही हैं। जहां ये प्लेट्स ज्यादा टकराती हैं, वह जोन फॉल्ट लाइन कहलाता है। बार-बार टकराने से प्लेट्स के कोने मुड़ते हैं। जब ज्यादा दबाव बनता है तो प्लेट्स टूटने लगती हैं। नीचे की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है। डिस्टर्बेंस के बाद भूकंप आता है।

 

भारत के आसपास भूकंप की क्या है वजह?

हिमालयन बेल्ट की फॉल्ट लाइन के कारण एशियाई इलाके में ज्यादा भूकंप आते हैं। इसी बेल्ट में हिंदूकुश रीजन भी आता है। 2015 के अप्रैल-मई में नेपाल में आए भूकंप के कारण करीब आठ हजार लोगों की मौत हुई थी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll