Salman Khan father Salim Khan Support MeToo Campaign in Bollywood

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी का 45वां जन्मदिन है। इस मौके पर उनके पति रॉबर्ट वाड्रा ने भी फेसबुक पर बधाई दी। प्रियंका गांधी में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की झलक देखी जाती है। कई बार उनकी तुलना की जाती है।

 

 

 

प्रियंका यूं तो राजनीति से काफी दूर रहती हैं, लेकिन वह अपनी मां सोनिया गांधी और भाई के लिए लोकसभा चुनाव में प्रचार करती हैं। 2014 के लोकसभा चुनाव में जब राहुल गांधी को स्मृति ईरानी, कुमार विश्वास से टक्कर मिल रही थी, लेकिन प्रियंका गांधी के रोडशो के बाद माहौल पूरी तरह से पलट गया।

 

बता दें कि कांग्रेस के दुर्ग कहे जाने वाले रायबरेली-अमेठी में मां सोनिया गांधी और भाई राहुल गांधी के लिए जीत की भूमिका बनाने का काम भी प्रियंका गांधी ही करती रही हैं। सोनिया और राहुल देशभर में प्रचार करते हैं, लेकिन रायबरेली में चुनाव प्रचार का कार्यभार का जिम्मा प्रियंका ही निभाती हैं।

 

 

प्रियंका ने पहली बार साल 1999 के लोकसभा चुनाव में सोनिया गांधी के लिए अमेठी में प्रचार का जिम्मा संभाला था। वह दो सप्ताह अमेठी में रुकी और सोनिया गांधी को लाखों वोटों से जीत दिलाई। साल 1999 में रायबरेली से लड़ रहे कैप्टन सतीश शर्मा की हारती हुई सीट पर प्रियंका ने रोड शो करके जीत में बदल दिया था।

 

 

प्रियंका के एक रोड शो ने तय की सोनिया की जीत

साल 1999 में जब सोनिया गांधी एक साथ अमेठी और कर्नाटक के बेल्लारी में लोकसभा चुनाव लड़ रही थीं और सुषमा ने कन्नड़ में भाषण देकर सारी चुनावी महफिलें लूट ली थीं, तब कांग्रेस ने प्रियंका को याद किया और फिर प्रियंका ने बेल्लारी को एक दिन के तूफानी रोड शो से जिस तरह फतह कर लिया, वह कांग्रेस के राजनीतिक इतिहास का अविस्मरणीय क्षण बन गया।

 

 

जानिए, प्रियंका से जुड़ी कुछ खास बातें...

  • प्रियंका गांधी ने अपना पहला सार्वजनिक भाषण 16 साल की उम्र में दिया था। खबरों की मानें तो 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रियंका धार्मिक नगरी बनारस से चुनाव लड़ना चाहती थी लेकिन मोदी के खिलाफ खड़े होने के जोखिम से उन्हें बचने की सलाह दी गई।

  • प्रियंका दिल्ली के मॉडर्न स्कूल से पढ़ी हैं। इसके बाद उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के जीसस एंड मैरी स्कूल से साइकॉलोजी की डिग्री हासिल की।

  • प्रियंका अपने पति रॉबर्ट वाड्रा से 13 साल की उम्र में मिली थीं। प्रियंका ने ही रॉबर्ट की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाया था।

  • प्रियंका पहले काफी गुस्सैल स्वभाव की थीं लेकिन अब उनके व्यवहार की सौम्यता सबको आकर्षित करती है। इसकी वजह है प्रियंका का रोज नियम से एक घंटे योग करना।

  • दादी इंदिरा गांधी की हत्या के बाद राहुल और प्रियंका ने अपनी पढ़ाई घर से ही जारी रखी। इसके बाद उनकी सामजिक जिंदगी बहुत सिमट गई। उन्हें 24 घंटे सुरक्षाकर्मियों के साये में रहना पड़ता था।

  • प्रियंका और रॉबर्ट की शादी काफी लो-प्रोफाइल रखी गई। शादी में महज 150 मेहमानों को निमंत्रण दिया गया। इन मेहमानों में बच्चन परिवार भी शामिल था।

  • प्रियंका की तुलना अक्सर उनकी दादी इंदिरा गांधी से होती है। प्रियंका का हेयरस्टाइल, कपड़ों के चयन और बात करने के सलीके में इंदिरा गांधी की छाप साफ नजर आती है।

  • प्रियंका को फोटोग्राफी, कुकिंग और पढ़ना खासा पसंद है। प्रियंका को बच्चों से खासा लगाव है। उन्होंने ही राजीव गांधी फाउंडेशन के बेसमेंट में बच्चों के लिए लाइब्रेरी शुरू कराई जिसका इस्तेमाल रोजाना कई बच्चे करते हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement