Ali Fazal to be a Part of Bharat

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

मंगलवार को यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने डिनर पार्टी का आयोजन किया जिसमें 17 दलों के कई दिग्गज नेता शामिल हुए। भाजपा के मिशन 2019 में विजय रथ को रोकने के लिए सोनिया विपक्ष को एकजुट करने की कवायद में जुट गई है।

इस डिनर में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और उमर अब्दुल्ला पहुंचे। इसके साथ ही एनसीपी चीफ शरद पवार, जद (यू) के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव, सपा के रामगोपल यादव, बसपा के सतीश मिश्रा भी पहुंचे।

 

सोनिया के इस डिनर आयोजन के बाद स्पष्ट हो गया है कि कौन सी राजनीतिक पार्टियां कांग्रेस की डियर और नियर हैं। कांग्रेस की डिनर डिप्लोमेसी ऐसी समय पर है, जबकि भाजपा विरोधी कुछ राजनीतिक दल कांग्रेस से इतर तीसरे मोर्चे के गठन की भी सोच रहे हैं।

सोनिया गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष रहते 17 विपक्षी पार्टियों को कुछ मौकों पर एकजुट करके दिखाया है। कांग्रेस की कोशिश बदले हालात में उन दलों को भी साथ करने की है जिन्हें भाजपा से परहेज है।

कांग्रेस की ओर से उन सभी 17 दलों के नेताओं को सोनिया गांधी ने स्वयं फोन करके न्यौता दिया जो पिछले दो साल से एक मंच पर दिख रहे हैं। कुछ दलों को लेकर कांग्रेस को संशय बना हुआ था।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll