Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्यूज़

राजकोट।

 

कहतें हैं मां का दर्ज़ा भगवान से भी उपर होता है, लेकिन अगर कोई बेटा अपने हाथों से जन्म देने वाली मां को भगवान के पास उपर भेज दे तब! राजकोट में मानवता को शर्मसार करने देने वाला एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां एक बेटे ने अपनी मां की छत से फेंककर मार डाला।  बताया जा रहा है कि आरोपी की मां को ब्रेन हैमरेज था। वह चलने फिरने में लाचार थी। मां के देखभाल और इलाज से तंग आकर बेटे ने इस घटना को अंजाम दिया।

 

पुलिस ने आत्महत्या मान, फाइल कर दी थी बंद

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, राजकोट में गांधीग्राम के दर्शन एवेन्यू में रहने वाली जयश्रीबेन विनोदभाई नाथवानी की बिल्डिंग की छत से गिरने के बाद मौत हो गई थी। यह घटना करीब दो माह पहले की है। पुलिस ने इस मामले को आत्महत्या मानकर फाइल बंद कर दी थी।

गुमनाम चिट्ठी खुलवाई फाइल

हादसे के करीब दो माह बाद पुलिस को एक गुमनाम चिट्ठी आई। जिसके आधार पर फिर जांच शुरु हुई। जब पुलिस ने सोसायटी के सीसीटीवी खंगाले तो हैरान रह गए। सीसीटीवी फुटेज में आरोपी संदीप अपनी मां को लिफ्ट से छत की ओर ले जाते दिखा।

 

पहले तो आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन जब सख्ती से पूछताछ हुई तो उसने सच उगला। राजकोट के डीसीपी करनराज वाघेला ने बताया कि संदीप पहले गुमराह कर्ता था। पहले उसने बताया कि वह मां को पूजा के लिए लेकर गया था।

इसके बाद जब पुलिस ने पूछा कि मां ने ढाई फुट ऊंची रेलिंग कैसे पार की, तो वह चुप हो गया। जब पुलिस ने सख्ती से पूछा तो उसने मां को छत से फेंकने की बात क़ुबूल कर ली। आरोपी ने बताया कि वह मां की बीमारी से परेशान था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement