Home Top News Reshuffle In PM Narendra Modi Cabinet

पाकिस्तान ने ईद की छुट्टियों के दौरान भारतीय फिल्मों के प्रसारण पर रोक लगाई

मुजफ्फरनगरः दूध पिलाती मां और बेटी को सांप ने काटा, दोनों की मौत

कर्नाटकः विधानसभा पहुंचे प्रोटेम स्पीकर

कर्नाटकः पुलिस कमिश्नर भी विधानसभा पहुंचे, अंदर भारी सुरक्षा व्यवस्था

कनाडाः भारतीय रेस्तरां में धमाका, CCTV फुटेज में दिखे 2 संदिग्ध

मोदी सरकार में बड़ा फेरबदल, पीयूष संभालेंगे वित्त मंत्रालय

Home | Last Updated : May 15, 2018 10:05 AM IST

Reshuffle in PM Narendra Modi Cabinet


दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

मोदी सरकार में बड़ा फेरबदल हुआ है। सरकार ने सूचना एवं प्रसारण के राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को स्वतंत्र प्रभार दे कर उन्हें इस मंत्रालय की पूरी जिम्मेदारी सौंप दी है। अब सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अतिरिक्त भार संभाल रही स्मृति ईरानी सिर्फ कपड़ा मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगी।

इसके साथ ही सोमवार को सरकार ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को वित्त मंत्रालय की अतिरिक्त जिम्मेदारी देने का भी फैसला किया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली की स्वास्थ्य होने तक गोयल वित्त मंत्री रहेंगे। सरकारी सूत्रों के मुताबिक अगर कर्नाटक में भाजपा-जेडी (एस) गठबंधन की सरकार बनती है तो मंत्रिमंडल के छोटे फेरबदल की संभावना हो सकती है। 

जेटली का अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में किडनी ट्रांस्प्लांट का सफल ऑपरेशन किया गया है। उन्हें पूरी तरह ठीक होने में वक्त लगेगा।

ठाकुरों को साधने की कोशिश

राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की अहम जिम्मेदारी दिए जाने को राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव से जोड़ कर देखा जा रहा है। राठौड़ राजस्थान के ठाकुर हैं। माना जा रहा है कि पद्मावत फिल्म विवाद से नाराज राजस्थान के ठाकुरों को साधने के मकसद से राठौड़ को केंद्र में ठाकुरों के चेहरे के तौर पर उभारने की कोशिश की जा रही है।

गौरतलब है कि पद्मावत विवाद के बाद राजस्थान में दो सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा हार गई थी। राठौड़ को यह जिम्मेदारी देने की दूसरी वजह उनका म़ृदुभाषी और वाकपटु होना माना जा रहा है। अगले साल चुनाव के मद्देनजर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अहम रोल है। 

सूत्रों के मुताबिक दरअसल, इस कवायद में केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत को सामने लाने की कोशिश थी, लेकिन राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया की विटो की वजह से केंद्रीय नेतृत्व ऐसा नहीं कर पाई।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले सितंबर 2017 में केंद्रीय मंत्रालय में फेरबदल कर नए चेहरों को मंत्रालयों की कमान सौंपी गई थी। इस फेरबदल में निर्मला सीतारमण को रक्षा मंत्रालय दिया गया था, वहीं लंबे समय से इस्तीफे की पेशकश के बाद सुर्खियों में रहे सुरेश प्रभु को वाणिज्य मंत्रालय सौंपा गया था, जबकि रेल मंत्रालय पीयूष गोयल को दिया गया था।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...