Director Kalpana Lajmi Passed Away

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

नेटफ्लिक्स की वेब सीरिज "सैक्रेड गेम्स" राजनीतिक विवाद की भेंट चढ़ चुकी है। फिल्म के तमाम सीन्स और संवाद पर लोगों की आपत्तियां आने लगी हैं। कोलकाता के बाद मुंबई में भी इसके खिलाफ शिकायत की गई है। बताते चलें कि 2006 में विक्रम चंद्रा ने इसी टाइटल से इंग्लिश में नॉवेल लिखी थी।

 

दरअसल, टिप्पणियों में तमाम चीजों के लिए कांग्रेस को दोष दिया गया है। यह भी स्थापित करने की कोशिश की गई है कि कैसे राजनीतिक बदलाव से मुंबई में माफिया और धर्म की आड़ में अपराध जगत का ढांचा संगठित होता गया। सीरीज में वैसे तो बहुत सारे राजनीतिक कमेंट हैं, लेकिन मुख्य तौर पर तीन ऐसे कमेंट हैं जो कांग्रेस और उसके नेताओं को काफी परेशान करने वाले साबित हो सकते हैं। ये तीनों टिप्पणियां कांग्रेस की दुखती रग भी है।

आपातकाल

"1977 में देश में इंदिरा गांधी की इमरजेंसी चालू थी। सरकार लोगों के “...” काटकर ले जा रही थी। मुंबई सबसे तेजी से भाग रही थी। यहां सबके लिए काम था। अपुन को ब्राह्मण होने का फायदा मिला।"

 

बोफोर्स घोटाला

"मां मरी तो बेटा पीएम बन गया। पीएम बन के बोफोर्स का घोटाला किया। अपुन सोचा जब देश के पीएम का कोई ईमान नहीं तो अपुन सीधे रास्ते चलकर क्या करेगा।"


शाहबानो केस

"1986 में शाहबानो को तीन तलाक दिया उसका पति। वो कोर्ट में केस लड़ी और जीती। लेकिन वो प्रधानमंत्री राजीव गांधी। वो फट्टू बोला चुप बैठ औरत। कोर्ट का फैसला उलटा कर दिया और शाहबानो को मुल्लों के सामने फेंका। इसपे उसको हिंदुओं से बहुत गाली पड़ी और उनको खुश करने के लिए टीवी पर रामायण शुरू किया। हर सन्डे सुबह पूरा देश चिपक कर टीवी देखता था।"

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement