Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

 

भारतीय रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर दी है। इस बढ़ोतरी के साथ रेपो रेट 6.50 फीसदी पर पहुंच गया है। विशेषज्ञों ने भी यह अनुमान जताया था कि इस बार आरबीआई ब्याज दरों में बढ़ोतरी करेगा। ब्याज दरों में हुई इस बढ़ोतरी का सीधा असर आपकी जेब पर पड़ेगा। रेपो रेट के बढ़ने से बैंकों से आपके लिए होम लोन और ऑटो लोन समेत अन्य कर्ज लेना महंगा साबित होगा। इसकी वजह से अब आपकी जेब पर ज्यादा ईएमआई का बोझ पड़ेगा।

 

आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति ने वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में महंगाई के 4.6 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है। वहीं, वित्त वर्ष 2020 की पहली तिमाही में इसके 5 फीसदी पर पहुंचने का अनुमान लगाया गया है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि कच्चे तेल की कीमतो में पिछले कुछ दिनों में थोड़ी नरमी आई है। लेकिन अभी भी इसकी कीमतें काफी ज्यादा हैं। मौद्र‍िक नीति समिति ने कहा कि घरेलू स्तर पर महंगाई को लेकर अनिश्च‍ितता का दौर है। इसलिए आने वाले महीनों में इस पर करीब से नजर बनाए रखने की जरूरत है।

 

मॉनसून पर है नजर रखने की जरूरत

एमपीसी ने कहा कि वैश्व‍िक स्तर पर वित्तीय बाजार में जारी उतार-चढ़ाव के असर के चलते इंफ्लेशन आउटलुक अनिश्च‍ित बना हुआ है। समिति ने मॉनसून को लेकर कहा कि फिलहाल मॉनसून देश भर में सामान्य रहा है लेकिन आने वाले दिनों में इसके क्षेत्रीय वितरण पर नजर बनाए रखने की जरूरत है। धान के मामले पर ज्यादा नजर बनाए रखना होगा। मौद्रिक नीति समिति ने कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य का महंगाई पर क्या असर पड़ता है, इसका असर अगले कुछ महीनों में ही सामने आ पाएगा, जब प्राइस सपोर्ट स्कीम लागू की जाएगी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement