Home Top News Ram Nath Kovind Lives Away From Vip Culture

गुड़गांव: सेक्टर 9 में अपहरण की कोशिश मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर की सीएम और डिप्टी सीएम ने किया करगिल का दौरा

सपा के पूर्व नेता अशोक वाजपेयी और स्वेता सिंह बीजेपी में शामिल

राजस्थान: चित्तौड़गढ़ से 8 लाख के अमान्य नोटों के साथ 2 लोगों की गिरफ्तारी

लुधियाना सिटी सेंटर घोटाले में विजीलेंस ब्यूरो से CM अमरिंदर सिंह को क्लीन चिट

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood

वीआइपी कल्‍चर से दूरी बनाते हैं कोविंद, पढ़िए ये किस्‍सा

Home | 20-Jun-2017 03:43:14 PM
            
   rising news official whatsapp number +91-7080355555

ram nath kovind lives away from vip culture

दि राइजिंग न्यूज़

शिमला।


बिहार के मौजूदा गवर्नर और एनडीए की तरफ से पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का देश का अगला राष्ट्रपति बनना लगभग तय है। उनसे जुड़ी कुछ दिलचस्प बाते मीडिया के सामने आयीं हैं जिसमे से सबसे दिलचस्प बात यह है कि 21 दिन पहले उन्हें शिमला के प्रेसिडेंशियल एस्टेट की रिट्रीट बिल्डिंग में एंट्री देने से मना कर दिया गया था। दरअसल मई में कोविंद शिमला गए थे। तब उन्होंने इस बिल्डिंग को देखने की इच्छा जताई थी।


पहले से रामनाथ कोविंद 28 मई को अपनी फैमिली के साथ शिमला गए थे और यहां की कई जगहों पर घूमें। जब, वे प्रेसिडेंशियल एस्टेट की रिट्रीट बिल्डिंग पहुंचे तो उन्हें एंट्री देने से मना कर दिया गया। वजह बताई गई कि उन्होंने पहले से परमिशन नहीं ली है। हिमाचल प्रदेश के गवर्नर के एडवाइजर ने बताया कि "बिहार गवर्नर ने राष्ट्रपति के लिए बनाए गए कल्याणी हेलिपेड का दौरा किया था। 


मैंने उन्हें सलाह दी कि वे शिमला वाटर सप्लाई कैचमेंट एरिया के जंगल का दौरा करें, जो दुनिया के सबसे अच्छे रखरखाव वाले जंगलों में से एक है। उन्हें यहां का माहौल काफी अच्छा लगा था।" "कोविंद काफी लो-प्राइल रहते हैं। इसलिए वे अपनी वाइफ के साथ ऑफिशियल गाड़ी के जरिए घूमे। वहीं, परिवार के दूसरे मेंबर्स के लिए टैक्सी किराए पर ली गई थी।"


यहां है रिट्रीट बिल्डिंग

मशोबरा की पहाड़ी की चोटी पर स्थित इस बिल्डिंग का अधिग्रहण उस वक्त के वायसराय ने 1895 में किया था। ये बिल्डिंग शिमला से 15 किमी की दूरी है। प्रेसिडेंट साल में कम से कम एक बार यहां जरूर आते हैं। जब वे यहां आते हैं, तब उनका पूरा ऑफिस भी दिल्ली से शिफ्ट हो जाता है। इस बिल्डिंग का ज्यादातर हिस्सा लकड़ी से बना हुआ है। इसे 1850 में बनाया गया था। यह करीब 10628 वर्ग फीट में फैला है। इसमें 16 कमरे हैं। यह पूरा इलाका हाई सिक्युरिटी जोन में आता है।


बता दें कि सोमवार को बीजेपी ने एनडीए के राष्ट्रपति पद के कैंडिडेट के लिए उनका नाम एलान कर सबको चौंका दिया। जानकारों की मानें तो एनडीए के पास राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेने वाले इलेक्टोरल कॉलेज के 57.85% वोट हैं। लिहाजा कोविंद आसानी से अगले राष्ट्रपति बन जाएंगे। 

 


यह भी पढ़ें

बीजेपी का दलित कार्ड, कोविंद होंगे राष्ट्रपति

दलित के बदले दलितविपक्ष की ओर से मीरा कुमार

होटल ताज को मिला ट्रेडमार्क

जब गोरे उर्दू नहीं बोल सकते, तो हम अंग्रेजी क्‍यों बोलें

फ्लाइट में महिला से की अश्‍लीलता, धरा गया

केरल फंसा वायरल फीवर की चपेट में

जिंदा हो गया मृत बच्‍चा!

बदसलूकी करने वाले सांसद के उड़ने पर लगा बैन

जादू के नाम पर छूता था महिलाओं का प्राइवेट पार्ट्स, धरा गया

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

HTML Comment Box is loading comments...
Content is loading...

 

संबंधित खबरें


 
 
What-Should-our-Attitude-be-Towards-China

 

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

 

 

 

Flicker News


Most read news

 

Most read news

 

Most read news

खबर आपके शहर की