Thugs of Hindostan Katrina Kaif Look Motion Poster Released

दि राइजिंग न्यूज़

मुंबई।

 

भारी बारिश की वजह से देश के कई राज्यों में लोगों का जन-जीवन बेहाल हो गया है। इस बीच नागपुर में चल रहे मॉनसून सत्र के दौरान अजीबोगरीब तस्वीर सामने आई है। भारी बारिश के बाद महाराष्ट्र के नागपुर स्थित विधानसभा में पानी घुसने के कारण बिजली सप्लाई ठप हो गई। विधान भवन में बिजली आपूर्ति करने वाले मुख्य सर्किट रूम में भारी बारिश के कारण पानी भरने की वजह से महाराष्ट्र विधानसभा की बिजली आपूर्ति बंद करनी पड़ी और सदन की कार्यवाही एक घंटे के लिए स्थगित रही।

 

विधानसभा में घुटने तक पानी

विधानसभा में घुटने तक पानी के भर जाने के कारण सदन की कार्यवाही सुबह 10 बजे शुरू होते ही विधानसभा अध्यक्ष हरिभाऊ बागडे ने घोषणा की कि स्विचिंग केंद्र के बंद होने की वजह से बिजली बंद की जानी है। सदन की कार्यवाही 11 बजे तक स्थगित रही। परिसर में बिजली गुल हो गई, सदन में चारो तरफ पानी भर गया और अंधेरा छा गया।

विधानसभा परिसर की बिजली बंद

पानी के सर्किट रूम में घुसने के बाद किसी भी बड़े हादसे को टालने के लिए पूरे विधानसभा परिसर की बिजली बंद कर गयी है। सदन की सुरक्षा टीम को डर था कि करंट कहीं पानी में भी फैल जाए इसलिए यह फैसला लिया गया। सत्तारूढ़ भाजपा की सहयोगी शिवसेना ने फौरन सरकार की आलोचना की। नागपुर में कल रात से भारी बारिश हो रही है। इस से कई इलाकों में पानी भर गया है।

 

शिवसेना ने कसा तंज

शिवसेना नेता सुनील प्रभु ने संवाददाताओं से कहा कि अगर यह मुंबई में हुआ होता तो शिवसेना के कब्जे वाली मुंबई नगर निकाय की आलोचना हो रही होती। हर कोई बृहमुंबई महानगरपालिक (बीएमसी) के खिलाफ जांच की मांग कर रहे होते।

उन्होंने कहा, “नागपुर दूसरी राजधानी है और महत्वपूर्ण शहर है। नागपुर निगर निगम भाजपा चलाती है। विधानसभा सत्र की कार्यवाही बारिश की वजह से बाधित नहीं हो, यह सुनिश्चित करने के लिए इसे बुनियादी आधारभूत ढांचा मुहैया कराना चाहिए था।”

 

ऊर्जा मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है कि बारिश ने विधानसभा की कार्यवाही को इस तरह से प्रभावित किया है। यह शायद जलनिकासी प्रणाली की साफ-सफाई नहीं किए जाने के कारण हुआ है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement