Mallika Dua Slams Speaking on Pulwama Terror Attack

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

चलती ट्रेन में अगर एसी ठीक से काम नहीं कर रहा हो, टॉयलेट में पानी नहीं हो या खानपान संबंधी कोई शिकायत हो, तो पैसेंजर सीधे ट्रेन सुप्रीटेंडेंट से शिकायत कर सकेंगे। सुप्रीटेंडेंट को ट्रेन में होने वाली समस्या का समाधान करने की  जिम्मेदारी  रहेगी। समाधान न होने पर उसकी जवाबदेही होगी। इस संबंध में रेलवे बोर्ड जल्दी ही आदेश जारी कर देगा। इसी महीने से सुप्रीटेंडेंट्स की नियुक्ति शुरू कर दी जाएगी।

पैसेंजर ट्रेनों को छोड़कर सभी में होगी तैनाती

रेलवे बोर्ड के अनुसार सभी सुप्रीटेंडेंट को एक बैज दिया जाएगा। यात्री उन्हें आसानी से पहचान कर शिकायत कर सकेंगे। ये पैसेंजर ट्रेनों को छोड़कर सभी में तैनात होंगे। अभी राजधानी, शताब्दी जैसी कुछ विशेष ट्रेनों में ही सुप्रीटेंडेंट होते हैं।

सुप्रीटेंडेंट की शिफ्ट के बाद सीनियर टीटीई संभालेगा चार्ज

जो ट्रेन 24 घंटे का समय लेती है तो उसमें ट्रेन चलते समय सुप्रीटेंडेंट की नियुक्त की जाएगी, लेकिन 8 घंटे बाद जब उसकी ड्यूटी खत्म होगी तो वह अपना बैच ट्रेन में मौजूद सबसे सीनियर टीटीई को सौंपेगा और वह ड्यूटी समाप्ति तक सुप्रीटेंडेंट रहेगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement