Home Top News Rahul Gandhi Speech In The University Of California

मध्य प्रदेश: बगोटा गांव में एक झोपड़ी में लगी आग, 3 बच्चों की मौत

हावड़ा से पटना जा रही तूफान एक्सप्रेस में लगी आग

2008 से चल रहा था रोटोमैक घोटाला: सीबीआई

बैंक घोटाले में 13 PNB बैंक अधिकारियों से पूछताछ जारी: सीबीआई

नाडा के पीएम 21 फरवरी को अमृतसर में पंजाब के सीएम से करेंगे मुलाकात

2012 में कांग्रेस के भीतर घर कर गया था अहंकार...  

Home | 12-Sep-2017 09:57:04 AM | Posted by - Admin

   
Rahul Gandhi Speech in the University of California

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।  

 

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों अमेरिका दौरे पर हैं। मंगलवार को राहुल गांधी ने बर्कले, यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में युवा छात्रों के साथ संवाद किया। राहुल गांधी ने भारत की समृद्ध विरासत के साथ-साथ भविष्य के रोडमैप पर भी बात की। राहुल गांधी ने भारत में समाज के साथ-साथ आर्थिक मोर्चे की चुनौतियों पर भी खुलकर बात की। राहुल गांधी ने माना कि सियासत में अहंकार से बचा जाना जरूरी है। यहां तक स्वीकार किया कि 2012 में कांग्रेस में अहंकार घर कर गया था।

राहुल गांधी के स्पीच की बड़ी बातें

 

हिंसा से किसी का भला नहीं होने वाला

 

राहुल गांधी ने हिंसा की राजनीति पर जमकर प्रहार किया और कहा कि भारत सदियों से अहिंसा का पुजारी रहा है और इसी रास्ते पर आगे बढ़ेगा।  राहुल गांधी ने कहा कि मेरी दादी को मार दिया गया।  मैंने बचपन से ही हिंसा की त्रासदी को झेला है।  इससे किसी का भला नहीं होने वाला।

 

नोटबंदी पर संसद की राय नहीं ली गई

 

नोटबंदी को लेकर भी राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा।  राहुल गांधी ने कहा कि लोकतंत्र में तमाम संस्थाओं को पॉलिसी में साथ लेनी होती है।  मोदी सरकार ने नोटबंदी का फैसला लेते वक्त संसद तक को भरोसे में नहीं लिया।  इसका नतीजा देखिए जीडीपी 2 प्रतिशत तक गिर गया।  लोगों को रोजगार के मोर्चे पर भी जूझना पड़ रहा है।  अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान पहुंचा है।

सत्ता में अहंकार नहीं होना चाहिए

 

राहुल गांधी ने कहा कि सत्ता में आने पर किसी भी दल को अहंकार नहीं होना चाहिए।  कांग्रेस पार्टी की नीति संवाद के जरिए लोगों को साथ लेकर चलने की है।  राहुल गांधी ने माना कि 2012 में कांग्रेस पार्टी में अहंकार घर कर गयि था।  अहंकार से बचा जाना चाहिए।  भारत में कोई भी दल सत्ता में 10 साल रहता है तो कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

 

मोदी सरकार ने RTI को नुकसान पहुंचाया

 

राहुल गांधी ने सूचना के अधिकार को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साधा।  राहुल ने कहा कि मोदी सरकार ने सूचना के अधिकार को भारी नुकसान पहुंचाया है।  हमने सिस्टम में पारदर्शिता लाने के लिए ये कानून बनाया था।

नौकरी सृजन की कमी है

 

राहुल ने कहा कि भारत में अभी भी नौकरी सृजन करने की कमी है, भारत को जॉब क्रिएट करनी होगी।  लेकिन हम चीन की नीति पर चलकर जॉब नहीं क्रिएट कर सकते हैं, हमें लोकतांत्रिक तरीके से ही ये करना होगा।  भारत में छोटे और मीडियम कारोबार में ही जॉब हैं।

 

बीजेपी के लोग मेरे खिलाफ एजेंडे में लगे

 

राहुल गांधी ने सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स को भी लपेटे में लिया।  राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी ने हजारों लोगों को सोशल मीडिया पर बैठा रखा है जो दिनभर मेरे खिलाफ एजेंडा चलाते हैं।  मेरे हर बयान और मेरे काम को गलत संदर्भ में दिखाने की कोशिश करते हैं।  लेकिन दुनिया मुझे देख रही है और मेरे काम से मेरे बारे में राय बनाई जानी चाहिए।

भारत में सारे पावर संसद के बाहर पीएमओ में है

 

राहुल गांधी ने मोदी सरकार के काम करने के तरीके को भी निशाने पर लिया और कहा कि मोदी राज में लोकतांत्रिक संस्थाओं को पटरी से उतारने की कोशिशें हो रही हैं।  राहुल गांधी ने कहा कि भारत में सारे पावर पावर संसद के बाहर पीएमओ में है।

 

बीजेपी कंप्यूटर का विरोध करती थी

 

राहुल गांधी ने कहा कि भारत में जब राजीव गांधी ने कंप्यूटर के बारे में बात की थी, तो उसका विरोध हुआ था।  बीजेपी के नेता जो बाद में भारत के प्रधानमंत्री बने थे, उन्होंने भी कंप्यूटर का विरोध किया था।

कश्मीर में आतंकवाद को हमने कम किया, लेकिन भाषण नहीं दिया

 

राहुल गांधी ने कश्मीर मुद्दे पर भी बात की। उन्होंने कहा कि 9 साल मैंने मनमोहन सिंह, चिंदबरम, जयराम नरेश के साथ मिलकर कश्मीर पर काम किया।  जब मैंने शुरू किया था तब कश्मीर में आतंकवाद चरम पर था, 2013 में मैंने मनमोहन को गले लगाकर कहा कि आप की सबसे बड़ी सफलता कश्मीर में आतंकवाद को कम करना है।  हमनें इस पर बड़े भाषण नहीं दिए, हमनें वहां पर पंचायती राज पर काम किया, छोटे लेवल पर लोगों से बात की।

बीजेपी की तरह कांग्रेस वरिष्ठों को नहीं भूलती

 

राहुल गांधी ने कहा कि अभी हम सीनियर और जूनियर के बीच में एक ब्रिज बना रहे हैं, हम अपने सीनियर लोगों को एक दम साइड नहीं कर सकते। इसलिए इस ओर धीरे-धीरे काम कर रहे हैं।  2012 में हमसे गलतियां हुईं, हमनें लोगों से दूरी बना ली थी। यही वजह थी कि 2014 में हमारी हार हुई।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news