Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्ली।

 

राहुल गांधी अपने एक ट्वीट को लेकर इस समय विवादों में घिर गए हैं। शनिवार को इस मामले में राज्‍यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने विशेषाधिकार हनन के नोटिस को लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के पास भेज दिया। दरअसल, राहुल लोकसभा सांसद हैं और उनके खिलाफ ऐसी कार्रवाई इसी सदन में हो सकती है।

 

 

गौरतलब है कि 27 दिसंबर 2017 को किए किए अपने ट्वीट में राहुल ने वित्त मंत्री अरुण जेटली के सरनेम को “Jaitlie” लिखकर तंज कसा था। इस पर संसद सत्र के दौरान राज्यसभा में बीजेपी सांसद ने राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया था।

 

राज्यसभा सचिवालय के सूत्रों के अनुसार नायडू ने बीजेपी सदस्य भूपेन्द्र यादव द्वारा राहुल के खिलाफ रखे विशेषाधिकार हनन के नोटिस को आगे विचार के लिए महाजन के पास भेजा है। नायडू ने नोटिस में आधार बनाए गए राहुल के एक ट्वीट को प्रथमदृष्टया विशेषाधिकार हनन के मामले के दायरे में मानते हुए आगे की कार्रवाई के लिए लोकसभा अध्यक्ष के पास भेजा है।

 

 

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने पीएम मोदी और अरुण जेटली के बारे में एक ट्वीट किया था, जिसे यादव ने अपमानजनक बताते हुए 28 दिसंबर को राज्यसभा में राहुल गांधी के खिलाफ विशेषाधिकार हनन का नोटिस पेश किया था। शुक्रवार को संसद के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन सदन में भी यह मुद्दा उठा था। यादव ने सदन में कार्यवाही के दौरान सदस्यों के आचरण और प्रक्रिया संबंधी नियम 187 के तहत इस मुद्दे पर विशेषाधिकार का मामला उठाया था।

 

यादव ने नोटिस में कहा है कि 27 दिसंबर को किया गया राहुल गांधी का ट्वीट बेहद अपमानजनक है और इसमें राज्यसभा की कार्यवाही को लेकर जानबूझकर भ्रम भी पैदा किया गया है। यादव ने राहुल गांधी के ट्वीट में राज्यसभा में नेता सदन जेटली के सदन में दिए एक बयान को तोड़-मरोड़कर पेश करने का भी आरोप लगाया है।

दरअसल, जेटली ने उक्त बयान प्रधानमंत्री द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के बारे में की गई कथित टिप्पणी को लेकर सदन में व्याप्त गतिरोध को दूर करने के लिए दिया था।

 

 

राहुल का ट्वीट

27 दिसंबर को किए ट्वीट में राहुल ने लिखा था, डियर मिस्टर जेटलाई- शुक्रिया यह याद दिलाने के लिए कि हमारे पीएम जो कहते हैं उनका वह मतलब नहीं होता है। ट्वीट के साथ राहुल ने पीएम मोदी की गुजरात रैली का एक विडियो भी पोस्ट किया था। विडियो में मोदी आरोप लगाते दिखते हैं कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान के हाई कमिश्नर के साथ गुप्त मीटिंग की।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement