Home Top News Prakash Javadekar Statement Over The Security System Of Indian School

शपथ ग्रहण समारोह में सोनिया, राहुल, ममता, मायावती, अख‍िलेश मौजूद

शपथ ग्रहण समारोह: अख‍िलेश यादव ने ममता बनर्जी के पैर छुए

कर्नाटक: शपथ लेने के बाद शाम 5:30 बजे KPCC जाएंगे जी परमेश्वर

शपथ ग्रहण समारोह: तेजस्वी यादव ने ममता बनर्जी के पैर छुए

शपथ ग्रहण समारोह: ममता बनर्जी ने सीएम कुमारस्वामी को गुलदस्ता भेंट क‍िया

सरकार बच्चों की सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम कर रही: जावड़ेकर

Home | Last Updated : Sep 11, 2017 04:29 PM IST


Prakash Javadekar Statement over the Security System of Indian School


दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

सात साल के मासूम प्रद्युम्न ठाकुर की बेहरहमी से हत्या होने के बाद देशभर के स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं। इस मामले पर मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि एक स्कूल में बच्चे की हत्या और बच्ची के साथ बलात्कार की घटनाएं काफी चिंताजनक हैं। जावड़ेकर ने कहा “मैं खुद से बहुत दुखी हूं, मेरी भी पोती स्कूल जाती है।” उन्होंने कहा कि सरकार स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम करने के उपायों पर विचार कर रही है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री जावड़ेकर ने कहा कि सीबीएसइ के स्कूलों को मंत्रालय की ओर से फिर सुरक्षा संबंधी निर्देश भेजे जा रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने जो जवाब मांगा है उसे भी भेज रहे हैं। जावड़ेकर ने कहा “एक और विचार मन में आया है कि क्यों ना स्कूल बस की ड्राइवर महिला हों और ज्यादा से ज्यादा कर्मचारी महिला हूं जिसे सुरक्षा की स्थिति कुछ बेहतर हो जाए।”

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री उपेन्द्र कुशवाह ने भी प्रद्युम्न की हत्या को बहुत ही दुखद बताया है। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि आगे से ऐसी घटना ना हो और जो भी दोषी हैं उनको सख़्त से सख़्त सज़ा मिले। कुशवाह ने कहा कि मंत्रालय की ओर से सीबीएसई की एक जांच कमेटी भी बनाई गई है जो जल्द ही अपनी रिपोर्ट सौंपगी।

उपेद्र कुशवाह ने कहा, “जिस तरह से स्कूल के बाथरूम में चाकू लेकर व्यक्ति अंदर पहुंच जाता हैं उससे लगता हैं कि कहीं ना कहीं स्कूल प्रशासन की सुरक्षा में कमी थी।”

 

उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवार को राज्य सरकार पर भरोसा रखना चाहिए राज्य सरकार भी जांच करा रही हैं लेकिन परिवार की मांग के मुताबिक राज्य सरकार सीबीआइ जांच पर भी विचार करे। उन्होंने कहा कि अभिभावकों पर जो लाठीचार्ज हुआ हैं उस पर लोकल प्रशासन को जवाब देना चाहिए। 



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...