Film on Pulwama Attack in Bollywood

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को चार दिवसीय यात्रा पर ब्रिटेन जा रहे हैं। उनकी इस यात्रा का मेन मोटिव है कॉमनवेल्थ हेड्स ऑफ गवर्नमेंट मीटिंग (सीएचओजीएम) में भाग लेना। 52 देशों के प्रतिनिधियों में से वह एकमात्र राष्ट्र प्रमुख हैं, जिन्हें द्विपक्षीय बातचीत का न्यौता दिया गया है। ब्रिटेन के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, मोदी का ब्रिटेन में अभूतपूर्व स्वागत होगा। वह बुधवार को ब्रिटिश पीएम टेरिजा मे संग बैठक भी करेंगे। इसके बाद गुरुवार से शुरू हो रहे कॉमनवेल्थ सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।

 

अधिकारियों के मुताबिक, दस डाउनिंग स्ट्रीट में मोदी और टेरिजा में परस्पर हित, सीमा पार आतंकवाद, वीजा और प्रवासियों के मुद्दे पर चर्चा करेंगे। इसके बाद दोनों नेता लंदन के साइंस म्यूजियम जाएंगे। जहां विज्ञान और नवाचार के पांच हजार साल नामक प्रदर्शनी देखेंगे और भारतीय मूल के व अन्य वैज्ञानिकों से रूबरू होंगे।

इसके बाद दोनों देशों के बीच हुए समझौते के तहत बने नए आयुर्वेदिक सेंटर ऑफ एक्सीलेंस को लॉन्च किया जाएगा। मोदी सम्मेलन में भाग लेने वाले एक मात्र नेता हैं, जिन्हें लिमोजिन से सफर की इजाजत है। बाकी नेता बस से यात्रा करेंगे।

महारानी और प्रिंस से भी होगी मुलाकात

मोदी स्वीडन से मंगलवार रात ब्रिटेन पहुंचेंगे। वह तीन वरिष्ठ विश्व नेताओं में से एक होंगे, जो महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निजी कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। मोदी के स्वागत में एक विशेष कार्यक्रम प्रिंस चार्ल्स ने भी आयोजित किया है, जिसमें वे टाटा मोटर की पहली इलेक्ट्रिक जगुआर चलाऐंगे। यह प्रोजेक्ट भारत-यूके तकनीकी सहयोग का प्रतीक है।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement