Anushka Sharma Banarsi Saree Look Goes Viral on Social Media

दि राइजिंग न्‍यूज

चिंगदाओ।

 

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एससीओ (शंघाई सहयोग संगठन) शिखर सम्मेलन को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने एससीओ सदस्य देशों को संबोधित करते हुए कहा कि पड़ोसियों के साथ कनेक्टिविटी पर भारत का जोर है।

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि सुरक्षा हमारी प्राथमिकता है। इसके लिए पीएम मोदी ने एक नया मंत्र भी दिया, जिसे उन्होंने “SECURE” नाम दिया। उन्होंने कहा कि सुरक्षा के लिए छह कदम उठाने जरूरी हैं।उन्होंने कहा कि S यानी सिक्योरिटी फॉर सिटीजन, E यानी इकोनॉमिक डेवलपमेंट, C यानी कनेक्टिविटी इन द रीजन, U यानी यूनिटी, R यानी रेस्पेक्ट फॉर सोवरेनिटी  एंड इंटिग्रिटी और E यानी एनवायरमेंट प्रोटेक्शन। पीएम ने कहा कि भारत का जोर पड़ोसियों के साथ कनेक्टिविटी पर है।

सुरक्षा से कोई समझौता नहीं

इस दौरान पीएम ने कहा कि भारत की सुरक्षा के साथ किसी भी तरह का कोई समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा, अफगानिस्तान आतंक के प्रभाव का दुर्भाग्यपूर्ण उदाहरण है। मैं आशा करता हूं कि शांति की दिशा में राष्ट्रपति अशरफ गनी द्वारा उठाए गए कदमों का क्षेत्र में हर कोई सम्मान करेगा। बिना नाम लिए प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान पर निशाना साधा।

पर्यटन को बढ़ाने की बात

पीएम ने कहा कि भारत में एससीओ देशों में केवल छह फीसदी विदेशी पर्यटक आते हैं, इस आंकड़े को आसानी से दोगुना किया जा सकता है। हमारी साझा संस्कृतियों के बारे में जागरुकता बढ़ाकर ऐसा हो सकता है। हम भारत में एससीओ फूड फेस्टिवल और एक बौद्ध फेस्टिवल का आयोजन करेंगे। इसके बाद पीएम ने कहा "आज हम फिर से एक मंच पर पहुंचे हैं जहां भौतिक और डिजिटल कनेक्टिविटी भूगोल की परिभाषा को बदल रही है। इसलिए हमारे पड़ोस और एससीओ के बीच कनेक्टिविटी हमारी प्राथमिकता है।"

बता दें कि पीएम मोदी शनिवार को अपने इस दो दिवसीय दौरे पर रवाना हुए थे। सम्‍मेलन के स्‍वागत समारोह में आज पीएम मोदी और चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग के बीच मुलाकात हुई। इससे पहले शनिवार को पहुंचते ही मोदी ने SCO समिट से इतर चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी की थी।

 

 

पीएम मोदी-शी जिनपिंग की मुलाकात

इससे पहले शनिवार को पीएम मोदी ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ द्विपक्षीय वार्ता की। इस द्विपक्षीय वार्ता में दोनों नेताओं ने करीब एक महीने पहले वुहान में हुई पहली अनौपचारिक बैठक में लिए गए निर्णयों के क्रियान्वयन पर चर्चा की। पिछले चार साल में यह दोनों नेताओं की 14वीं मुलाकात है।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement