Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्यूज़

लखनऊ।

 

भारतीय जनता पार्टी 2019 लोकसभा चुनावों को लेकर अन्य दलों के मुकाबले ज्यादा सक्रिय दिख रही है। जहां अमित शाह ने अभी पूरे देश का दौरा कर चुनावी माहौल को जाना है। वहीं पीएम मोदी का फोकस उत्तर प्रदेश पर है। आगामी दिनों में वह हर महीने राज्य में दो से चार रैली और कार्यक्रम करेंगे। उत्तर प्रदेश सबसे बड़ा राज्य है। हर दल यहां के वोटरों को साधने की कोशिश में लगा है। भाजपा सपा-बसपा गठबंधन को हल्के में नहीं ले रही है। अगर सपा बसपा गठबंधन हुआ तो वाकई भाजपा के लिए परेशानी खड़ी हो सकती है। क्योंकि विपक्षी एकता की वजह से ही भाजपा को उपचुनावों में 3 लोकसभा सीटें गंवानी पड़ी हैं।

 

पीएम मोदी और अमित शाह ने सबसे बड़े राज्य में विपक्षी एकता से निपटने के लिए अलग रणनीति बनाई है। पीएम मोदी आज दो दिन के दौरे पर लखनऊ पहुंचेंगे। जहां वह विकास प्रोजेक्टों की नींव रखेंगे और लोगों को संबोधित करेंगे। वहीं सीएम योगी और अमित शाह हिंदुत्व के एजेंडे को आगे बढ़ाएंगे। जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी अब हर महीने यूपी में 2 से 4 रैली करेंगे।

पीएम मोदी इससे पहले भी राज्य में कई रैली कर चुके हैं। हाल ही में उन्होंने 28 जून को मगहर में जनता को संबोधित किया था। जहां उन्होंने 24 करोड़ रुपए देकर कबीर एकेडमी का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने दलित और पिछड़ी जातियों को साधने की कोशिश भी की। माना जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनाव में सपा, बसपा, कांग्रेस, रालोद साथ लड़ सकती हैं। ऐसे में भाजपा के सामने कड़ी चुनौती है कि वह अपने वोट बैंक को बचाए। पिछले लोकसभा चुनाव में सपा, बसपा व कांग्रेस को मिले वोट को जोड़ दें, तो यह भाजपा से 7 फीसदी ज्यादा है।

 

हाल ही में पीएम मोदी ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई के साथ 5 हजार करोड़ रुपए की लागत से बने सैमसंग मोबाइल प्लांट का उद्घाटन किया है। इस दौरान मोदी ने वेस्ट यूपी के वोटरों को साधने की कोशिश की। वेस्ट यूपी में 10 लोकसभा सीटे हैं। पीएम मोदी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन किया इस दौरान उन्होंने 15 सीटें पर फोकस किया। मोदी ने 23 हजार करोड़ रु से 340 किमी लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की आधारशिला रखी। बनारस में 22 हजार करोड़ रु के विकास कार्यों का उद्घाटन किया। बता दें कि यह आजमगढ़ सपा, बसपा, कांग्रेस का गढ़ रहा है। यहां भाजपा 2014 में भी हार गई थी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement