Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्यूज़

गांधीनगर।

 

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करते वक्त देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक रैली में अजान की आवाज सुनकर अपना भाषण रोक दिया था। मोदी नवसारी में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे और तब ही पास की एक मस्जिद से अजान की आवाज आई थी। आवाज को सुनकर मोदी ने कुछ देर के लिए बोलना रोक दिया, फिर जैसे ही अजान खत्म हुई तो मोदी ने “भाईयों-बहनों” बोलकर अपनी बात फिर से शुरू की।

 

बता दें कि इससे पहले 2016 में पश्चिम बंगाल में भी ऐसा ही हुआ था। जब पीएम खड़गपुर में एक रैली को संबोधित कर रहे थे। तब जैसे ही मोदी को अजान सुनाई दी थी तो वह पांच मिनट तक कुछ नहीं बोले थे। अजान के खत्म होने पर पीएम ने कहा था कि मैं किसी की प्रार्थना में दखल नहीं देना चाहता, इसलिए सोचा कुछ देर रुक जाऊं।

 

 

 

राहुल, कांग्रेस और इंदिरा गांधी पर साधा निशाना

 

पीएम मोदी कल चुनाव प्रचार के लिए गुजरात में थे। अपनी रैलियों में पीएम ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था। मोदी ने कहा था कि कांग्रेस को विकास से नफरत है, उन्हें गुजरात से भी नफरत है, वो मुझसे यानी मोदी से भी नफरत करते हैं और अब उन्हें काम करने वाली सरकार और उसके शरीर से निकलने वाले पसीने से भी नफरत हो रही है।

 

मोदी ने राहुल गांधी के सोमनाथ मंदिर दर्शन पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके परिवार के लोग मंदिर के बनने से खुश नहीं थे। पीएम ने कहा कि अगर सरदार पटेल नहीं होते तो सोमनाथ मंदिर कभी नहीं बन पाता।

 

 

मोदी ने पुरानी बातें याद दिलाते हुए कहा कि आज कुछ लोग सोमनाथ मंदिर को याद कर रहे हैं, आप इतिहास भूल गए हैं क्या? आपके परिवार के लोग, हमारे पहले प्रधानमंत्री मंदिर बनने के प्लान से खुश नहीं थे। मोदी ने यह भी आरोप लगाया कि 1980 में जब मोरबी में बांध टूटा था तो इंदिरा गांधी मुंह पर रूमाल रखकर आई थीं।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll