Neha Kakkar Crying gets Emotional in Memories of Ex Boyfriend Himansh Kohli

दि राइजिंग न्यूज़

जयपुर।

 

गुर्जर आंदोलन एक बार फिर राजस्थान सरकार के लिए सिर दर्द बन गया है। आज चौथे दिन भी गुर्जर आंदोलनकारी दिल्ली मुंबई रेलवे ट्रैक पर पड़ाव डाले हुए हैं। आंदोलन के कारण अब तक करीब 300 करोड़ का नुकसान हो गया है। रविवार को धौलपुर हाईवे पर गुर्जर समुदाय के लोग और पुलिस के बीच झड़प हो गई थी। लोगों ने पुलिस टीम पर पथराव किया और गाड़ियां फूंक डाली। भीड़ को हटाने पुलिस को हवाई फायर करने पड़े। इसमें चार लोग घायल हुए। हालांकि, आज यहां शांति बनी हुई है।

 

उधर, हाईवे को भी गुर्जरों ने बंद करवा दिया है। लोग जाम लगाकर प्रदर्शन कर रहे हैं। रेलवे ट्रैक पर खाट लगाकर लोग दिन-रात जुटे हुए हैं। यहां तक कि सड़कों पर ही रात में लोग सो रहे हैं और यहीं खाना भी खा रहे हैं। बताया जा रहा है कि गुर्जर आंदोलन से हाईवे पर भी यातायात ठप पड़ा हुआ है। 

सबसे ज्यादा असर रेलवे पर हुआ है। अभी तक 55 ट्रेनें प्रभावित हुई हैं जबकि 26 ट्रेनों के रास्ते बदले गए हैं और करीब 80 हजार रेलयात्री प्रभावित हुए हैं। गुर्जर नेताओं से आज राजस्थान सरकार के मंत्री बातचीत करेंगे। इसके लिए मंत्रियों का एक समूह बनाया गया है। 30 गुर्जर नेताओं की कमेटी बनाई गई है जो गुर्जर नेताओं और मंत्रियों के बीच संवाद का काम करेगी।

अभी तक आंदोलनकारियों पर तीन मुकदमे दर्ज हुए हैं। करौली जिले के कलेक्टर कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के घर के बाहर सुप्रीम कोर्ट हाईकोर्ट के आदेश की अवहेलना का नोटिस भी चस्पा कर दिया है। इसमें 2007 में जारी हुए हाईकोर्ट के आदेश की प्रतिलिपि चस्पा की गई है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement