Rani Mukerji to Hoist the National flag at Melbourne Film Festival

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

आतंकवाद का पनाहगाह पाकिस्तान अपनी नापाक बयानबाजी से पीछे हट ही नहीं रहा है। भारतीय सेनाध्यक्ष बिपिन रावत के गीदड़भभकी वाले बयान से तिलमिलाए पाक ने एक बार फिर से परमाणु हमले की धमकी दी है। पाकिस्तानी विदेश मंत्री ने कहा कि अगर भारत को लगता है कि पाकिस्तान उसको सिर्फ परमाणु हमले की गीदड़भभकी दे रहा है, तो वो आजमा कर देख ले।

 

यह पहली बार नहीं है, जब पाकिस्तान ने भारत को परमाणु हमला करने की धमकी दी है। इससे पहले सितंबर 2016 में भी ख्वाजा आसिफ ने भारत को परमाणु हमले की धमकी दी थी। उस समय ख्वाजा आसिफ पाकिस्तान के रक्षामंत्री थे। इस पर अमेरिका समेत दुनिया भर के देशों ने पाकिस्तान को जमकर लताड़ा था। हालांकि वह अब भी अपनी नापाक करतूतों से बाज आने का नाम नहीं ले रहा है।

शनिवार को पाकिस्तानी विदेश मंत्री आसिफ ने ट्वीट किया, ''भारतीय सेना प्रमुख का बयान बेहद गैर जिम्मेदाराना है। यह परमाणु हमले को आमंत्रित करने वाला है। अगर जनरल रावत की ख्वाहिश हो, तो वो हमारे संकल्प (परमाणु हमला करने की धमकी) की आजमाइश कर सकते हैं। उनका संदेह जल्द दूर हो जाएगा, इंशाल्लाह।''

 

इसके अलावा सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत के बयान के बाद पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता डॉ। मोहम्मद फैसल ने भी ट्वीट किया। उन्होंने कहा, ''इस मामले को हल्के में नहीं लिया जाएगा। पाकिस्तान को लेकर गलत आंकलन न किया जाए। पाकिस्तान अपनी रक्षा करने में सक्षम है।'' वहीं, पाकिस्तानी इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR) के डायरेक्टर जनरल मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा कि पाकिस्तान के परमाणु हथियार अपनी सुरक्षा के लिए हैं। यही हथियार भारत को युद्ध से रोक रहे हैं।

पाकिस्तानी विदेश मंत्री की यह परमाणु धमकी भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत के उस बयान के जवाब में आई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान की ओर से मिल रही परमाणु धमकी महज गीदड़भभकी है। सेना प्रमुख ने यह भी कहा था कि LoC पर पाकिस्तान जब भी संघर्ष विराम का उल्लंघन करता है, तो हम उसको मुंहतोड़ जवाब देते हैं। हम पाकिस्तान की उस पोस्ट को टारगेट करते हैं, जहां से हमें लगता है कि घुसपैठ होती है। हम चाहते हैं कि पाकिस्तानी सेना अपनी नापाक हरकत की कीमत चुकाए।

 

जरनल रावत ने कहा था कि पाकिस्तान आतंकियों को लगातार भेजता ही रहेगा। आप जितने भी मारोगे पाकिस्तान फिर भेज देगा। इसलिए हमने निर्धारित किया कि पाकिस्तानी सेना की उन पोस्ट्स को निशाना बनाया जाए, जहां से आतंकवादियों को मदद मिल रही है। हमारा मकसद पाकिस्तानी पोस्ट्स को बर्बाद करना रहा है, ताकि वह दर्द उनको महसूस करे। इसलिए जो कैसुअल्टीस पाकिस्तान ने झेली है, वो हमसे तीन-चार गुना ज्यादा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll