Anushka Sharma Banarsi Saree Look Goes Viral on Social Media

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

आज फिर से लोकसभा और राज्यसभा दोनों ही जगह पीएनबी घोटाले की गूंज सुनाई दी। संसद के अंदर और बाहर दोनों जगह हंगामे और प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं। लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष के नेता तख्तियां लेकर स्पीकर की कुर्सी तक पहुंच गए।

जोरदार हंगामे को देखते हुए लोकसभा अगले एक घंटे तक के लिए स्थगित कर दी गई। वहीं सदन के बाहर भी मोदी सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन हुआ। फिर सदन की कार्यवाही हंगामे के बीच 12 बजे शुरू हुई। सदन में संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि सरकार पीएनबी घोटाले समेत अन्य विषयों पर चर्चा के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि सभी बैंक घोटाले यूपीए सरकार के दौरान हुए हैं ऐसे में कांग्रेस पार्टी चर्चा से खुद ही भाग रही है।

अनंत कुमार के जवाब में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि कांग्रेस नियम 193 की तहत चर्चा कराना चाहती है, सरकार ने बैंकों में ऐसी लूट को कैसे होने दिया। इस बीच हंगामे की वजह से स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सदन की कार्यवाही बुधवार तक के लिए स्थगित कर दी।

राज्य सभा में सदन के पटल पर पेपर रखे गए। इसके बाद कांग्रेस ने पीएनबी घोटाले और नीरव मोदी के मुद्दे पर जोरदार हंगामा किया। साथ ही टीडीपी सांसदों ने आंध्र के मुद्दे पर वेल में आकर प्रदर्शन किया।

कांग्रेस के सांसद “नीरव मोदी वापस लाओ” के नारे लगाने लगे और वेल में आकर प्रदर्शन करने लगे। वहीं टीडीपी और टीआरएस के सांसदों ने हाथ में पोस्टर और प्लेकार्ड लेकर जोरदार नारेबाजी की। आंध्र के सांसद अपने राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर बजट सत्र के पहले हिस्से से प्रदर्शन कर रहे हैं। टीडीपी ने केंद्र सरकार पर बजट में आंध्र प्रदेश को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया है।

 

 

राज्यसभा में भी हंगामा

राज्यसभा में सभापति वेंकैया नायडू ने सांसदों के व्यवहार पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने वेल में आए सांसदों से वापस अपनी सीट पर जाने की अपील की, लेकिन जब कोई सांसद वापस नहीं गया तो उन्होंने कहा कि ये संसद है बाजार नहीं है, आप लोग प्लेकार्ड लेकर यहां नारेबाजी कर रहे हैं।

यह उच्च सदन के नियमों के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि आप लोग ऐसा करके खुद को बेइज्जत कर रहे हैं साथ ही लोकतंत्र का मखौल बनवा रहे हैं।

सभापति ने राज्यसभा की कार्यवाही 11.30 बजे के लिए स्थगित कर दी है। उन्होंने कहा कि सभी दलों के नेता उनके कमरे में आकर मुलाकात करें। अब सदन में चर्चा के लिए सभापति ने सभी पार्टी के नेताओं के बुलाया है। अगर पक्ष-विपक्ष के बीच मुद्दे पर सहमति बनती है तो ही सदन में चर्चा संभव है। राज्य सभा की कार्यवाही को 11.30 शुरू न करते हुए अब 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement