Box Office Collection of Dhadak and Student of The Year

दि राइजिंग न्‍यूज

मुंबई।

 

मुंबई में आज सुबह से लापता ओएनजीसी के हेलिकॉप्टर का मलबा मिला है। इसमें सवार सभी सात लोगों की मौत हो गई। यह हेलीकॉप्टर भारत सरकार के उपक्रम ONGC (ऑयल एंड नैचुरल गैस कॉर्पोरेशन) के अधिकारियों को ले जा रहा था। हेलीकॉप्टर में ओएनजीसी के पांच डीजीएम और दो पायलट सवार थे।

 

प्राप्‍त ताजा जानकारी के मुताबिक कोस्ट गार्ड हेलीकॉप्टर का मलबा मिल गया है। हेलीकॉप्टर में सवार सभी सात लोगों के शव बरामद कर लिए गए है। यह हेलीकॉप्टर सात साल पुराना बताया जा रहा है और इसका रजिस्ट्रेशन नंबर वीटी-पीडब्ल्यूए है।

 

 

पवन हंस दाऊफिन एन3 हेलीकॉप्टर ने सुबह दस बज कर 25 मिनट पर जूहू एयरोड्रोम से उड़ान भरी थी और इसे सुबह 10.58 मिनट पर मुंबई हाई (बॉम्बे हाई) स्थित निर्दिष्ट तेल क्षेत्र पर उतरना था, लेकिन 10.30 पर ही एटीसी से इसका संपर्क टूट गया था।

 

केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, नेवी और कोस्ट गार्ड अपना काम कर रहे हैं, मैं खुद मुंबई जा रहा हूं ताकि सभी चीजों पर नजर रख सकूं, मैंने इस बारे में रक्षा मंत्री से भी चर्चा की है, उन्होंने भी इस हादसे पर चिंता व्यक्त की है और नेवी व कोस्ट गार्ड को पूरे मामले पर नजर रखने को कहा है।

 

 

हेलीकॉप्टर का अंतिम बार एटीसी (एयर ट्रैफिक कंट्रोल) सुबह 10.20 पर हुआ था। ऐसा माना जा रहा है कि इसका एटीसी से संपर्क मुंबई से 30 नॉटिकल माइल्स से कुछ ही दूरी पर टूटा। यह हेलीकॉप्टर करीब सात साल पुराना बताया जा रहा है। ओएनजीसी ने संपर्क नहीं होने पर इमरजेंसी कॉलिंग के जरिए इंडियन कोस्ट गार्ड (भारतीय तट रक्षक) और नेवी (नौसेना) को सूचना दी।

 

नौसेना ने बताया कि उसने हेलीकॉप्टर की तलाश के लिए अपनी स्टील्थ पनडुब्बी आइएनएस टेग तैनात किया था। साथ ही टोही विमान पी8आइ को भी खोज के लिए लगाया है। सर्च ऑपरेशन में भारतीय तट रक्षक के जहाज भी लगे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll