Watch Making of Dilbar Song From Satyameva Jayate

दि राइजिंग न्‍यूज

इलाहाबाद।

 

इलाहाबाद से गंगा-जमुनी तहजीब का नायाब संदेश निकला है। यहां कुंभ यात्रियों के लिए रोड को चौड़ा बनाने के लिए अल्लाह के बंदों ने खुद मस्जिदें तोड़ दीं। आगामी कुंभ में संगम नगरी में कुंभ के आयोजन के लिए सड़कों का चौड़ीकरण चल रहा है। इसके तहत नगर में विभिन्न इमारतों को तोड़ा जा रहा है। यहां के मुसलमानों ने कुंभ मेले के लिए सड़क के चौड़ीकरण का समर्थन करते हुए इबादतगाहों के प्रमुख हिस्सों को अपने हाथों से तोड़ दिया।

सड़क चौड़ीकरण में देना चाहते हैं सहयोग

राजपुर में मस्जिद-ए-कादरी में मुतवल्ली इरशाद हुसैन के नेतृत्व में स्थानीय लोगों ने सरकारी योजना का समर्थन करते हुए मस्जिद के प्रमुख भाग को तोड़ दिया। तोड़े गए हिस्से में वजूखाना प्रमुख है। कुंभ के नाम पर किसी भी स्थानीय नागरिक ने इसका विरोध नहीं किया। तोड़ने वालों में नौलाख सिद्दीकी, हाजी शादाब अहमद, गजाल, गुफरान और एहतेशाम प्रमुख है। सभी ने एक स्वर में कहा कि हम कुंभ के लिए होने वाले सड़क चौड़ीकरण में अपना सहयोग देना चाहते हैं इसलिए ऐसा किया है।

गौरतलब है कि चकिया बेहद घनी मुस्लिम आबादी वाला क्षेत्र है। जिन सड़कों का चौड़ी करण होना है, उसमें कुछ मस्जिदें भी मौजूद हैं। जब स्थानीय मुसलमानों को पता चला कि सड़क चौड़ीकरण होनी है तो लोगों ने विरोध के स्थान पर समर्थन करना शुरू कर दिया। नगर निगम द्वारा चिह्नित मस्जिदों के कुछ हिस्सों आपसी सहमति से गिरा दिया गया।

बिना किसी विवाद तोड़ी मस्जिद

सरदार पटेल मार्ग में वर्ष 1912 में बनी तिरपाल वाली मस्जिद को मुतवल्ली अब्दुल कुद्दूस ने बिना किसी विवाद के दूर हटकर तोड़ दी। कौमी सौहार्द की मिसाल देते हुए उन्होंने कुंभ के श्रद्धालुओं को दिक्कत न होने देने के उद्देश्य से ऐसा किया है। उम्मुल बनीन सोसाइटी के महासचिव सैयद मो. अस्करी का कहना है कि सड़क के चौड़ीकरण में एडीए द्वारा लाल निशान लगते ही शहर उत्तरी के विधायक से वादा किया था कि विकास के मार्ग में बाधा बन रही मस्जिद को अपने हाथ से हटा देंगे।

उन्होंने कहा कि यदि एडीए इसे तोड़ता है तो माहौल खराब हो सकता है। उनकी बातों का विश्वास करते हुए एडीए वीसी ने मस्जिद में कोई तोड़फोड़ नहीं की। अब्दुल कुद्दूस रमजान का महीना शुरू होने से पहले ही स्थानीय लोगों के सहयोग से इसे तोड़ दिया।  

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll