Home Top News Ms Swaminathan Will Be The Candidate From Opposition In Presidential Election 2017 In India

लोया केस में SC के फैसले से अमित शाह के खिलाफ साजिश बेनकाब- योगी

POCSO एक्ट में संशोधन पर बोलीं रेणुका चौधरी- देर आए दुरुस्त आए

शत्रुघ्न सिन्हा बोले- त्याग और बलिदान की प्रतिमूर्ति हैं यशवंत सिन्हा

केंद्र सरकार अली बाबा चालीस चोर की सरकार है: शत्रुघ्न सिन्हा

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए AIADMK ने उतारे तीन प्रत्याशी

दलित कार्ड के सामने किसान कार्ड की तैयारी

Home | Last Updated : Jun 21, 2017 04:23 AM IST

  • विपक्ष रख सकता है एमएस स्वामीनाथन को उम्मीदवार

   
ms swaminathan will be the candidate from opposition in presidential election 2017 in india

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।


राष्ट्रपित चुनाव के उम्मीदवार के नामांकन के लिए विपक्ष पिछले कई दिनों से माथापच्ची कर रहा है। सूत्रों के हवाले पता चला है कि एनडीए की तरफ से रामनाथ कोविंद को उम्मीदवार बनाए जाने के बाद अब खबर आ रही है कि कांग्रेस हरित क्रांति के जनक एमएस स्वामीनाथन को राष्ट्रपति चुनाव में उतार सकती है। सूत्रों के मुताबकि स्वामीनाथन कांग्रेस की पहली पसंद हैं।


कांग्रेस को शिवसेना का साथ मिलने की आस


सूत्रों के मुताबिक, एमएस स्वामीनाथन के नाम के जरिए कांग्रेस को शिवसेना का साथ भी मिलने की आस है, अगर ऐसा हुआ तो एनडीए को इससे करारा झटका लगेगा और इससे एनडीए में फ़ूट का सन्देश भी जाएगा।


दलित कार्ड के सामने किसान कार्ड खेलना चाहती है कांग्रेस


दरअसल कांग्रेस एनडीए के दलित कार्ड के सामने किसान कार्ड खेलना चाहती है। बता दें कि रामनाथ कोविंद दलित समाज से आते हैं वहीं, एमएस स्वामीनाथन को हरित क्रांति का जनक माना जाता है। कांग्रेस बाकी विपक्षी दलों से चर्चा के बाद जल्दी ही स्वामीनाथन से संपर्क कर सकती है। कांग्रेस किसी राजनेता के मुकाबले पीपुल्स प्रेसिडेंट पर ज़ोर दे रही है।


विपक्ष मीरा कुमार को भी बना सकता है उम्मीदवार


कहा ये भी जा रहा है कि विपक्षी दल नहीं अड़े तो कांग्रेस अपनी पार्टी का उम्मीदवार उतारने की इच्छुक नहीं है। लेकिन अगर विपक्षी दल अड़े तो दलित नेता मीरा कुमार को विपक्ष उम्मीदवार बनाएगी। मीरा कुमार लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष रह चुकी हैं।


अंकगणित पूरी तरह बीजेपी के उम्मीदवार के हक़ में


कांग्रेस का मानना है कि जैसे प्रतिभा पाटिल के खिलाफ बीजेपी भैंरो सिंह को लड़ाकर महिला विरोधी नहीं हुई थी। वैसे ही दलित कोविंद के खिलाफ किसी अन्य को लड़ाने से वो भी दलित विरोधी नहीं हो जाएगी। कांग्रेस मानती है कि इस वक्त अंकगणित पूरी तरह बीजेपी के उम्मीदवार के हक़ में है, इसलिए विपक्ष का उम्मीदवार विचारधारा का प्रतीक मात्र होगा और विपक्षी एकता 2019 के लिए काम आएगी। हालांकि अंतिम फैसला सभी विपक्षी दलों का का ही होगा।


कौन हैं एमएस स्वामीनाथन?


एमएस स्वामीनाथन को देश में हरित क्रांति का जनक माना जाता है। यह देश के मशहूर कृषि वैज्ञानिक हैं। स्वामीनाथन ने खाघान में देश को आत्मनिर्भर बनाया है। स्वामीनाथन को पद्मश्री, पद्म भूषण, पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया जा चुका है।


यह भी पढ़ें

बीजेपी का दलित कार्ड, कोविंद होंगे राष्ट्रपति

दलित के बदले दलितविपक्ष की ओर से मीरा कुमार

होटल ताज को मिला ट्रेडमार्क

जब गोरे उर्दू नहीं बोल सकते, तो हम अंग्रेजी क्‍यों बोलें

फ्लाइट में महिला से की अश्‍लीलता, धरा गया

केरल फंसा वायरल फीवर की चपेट में


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...