Fanney Khan Promotional Event on Dus Ka Dum

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच कहना मणिशंकर अय्यर को भारी पड़ गया। कांग्रेस ने अय्यर को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरेजवाला ने इसकी जानकारी ट्वीट कर दी।

उन्होंने लिखा कि यही हैं कांग्रेस का गांधीवादी नेतृत्व व विरोधी के प्रति सम्मान की भावना। कांग्रेस पार्टी ने श्रीमान मणिशंकर अय्यर को कारण बताओ नोटिस जारी कर प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित कर दिया है।

 

इससे पहले पीएम मोदी को नीच कहने पर कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर की पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आलोचना की है। जिसके बाद अय्यर ने अपने शब्दों के लिए पीएम से माफी मांगी। मणिशंकर अय्यर ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा, हां मैंने नीच शब्द का इस्तेमाल किया। मैं हिन्दी भाषी नहीं हूं, मैं अपने मन में पहले अंग्रेजी से हिंन्दी में ट्रांसलेट करता हूं। मैंने अपने मन में “THIS LOW PERSON” का अनुवाद किया। अगर नीच का अर्थ कुछ और है तो मैं माफी मांगता हूं। मेरे साथ ये पहली बार नहीं हुआ, पहले भी ऐसे हो चुका है, लेकिन मैं फिर भी कहूंगा कि प्रधानमंत्री की भाषा कांग्रेस नेताओं के लिए अच्छी नहीं है। आपको बता दें कि मणिशंकर अय्यर ने सफाई देते हुए छह बार माफी का जिक्र किया।

 

 

राहुल ने ट्वीट किया, भाजपा और पीएम कांग्रेस पार्टी के लिए गंदी भाषा का उपयोग करते हैं, लेकिन हमारी पार्टी की अलग संस्कृति है। मैं मणिशंकर द्वारा इस्तेमाल की गई भाषा को सही नहीं मानता। हमारी पार्टी और मैं चाहता हूं कि वह इसके लिए माफी मांगे।

 

क्या कहा था मणिशंकर अय्यर ने?

अय्यर ने एक संवाद एजेंसी को दिए गए साक्षात्कार में मोदी के बारे में कहा, ये आदमी बहुत नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है। ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है।

 

अय्यर प्रधानमंत्री के उस बयान का जवाब दे रहे थे जिसमें उन्होंने पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का नाम लिए बगैर उन पर संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर को नीचा दिखाने का आरोप लगाया है। प्रधानमंत्री ने बृहस्पतिवार को एक रैली में कहा कि राष्ट्र निर्माण में अंबेडकर का योगदान बहुत बड़ा था, लेकिन कुछ लोगों ने उसे कम करके आंकने की कोशिश की जिसमें वे सफल नहीं हुए।

 

गुजरात में पहले चरण के मतदान से ठीक पहले आया उनका यह बयान कांग्रेस को भारी पड़ सकता है। मोदी ने पलटवार करते हुए इसे गुजरात का अपमान बताया है। प्रधानमंत्री ने सूरत में बृहस्पतिवार को एक चुनावी रैली में कहा कि ऊंच-नीच इस देश के संस्कार में नहीं है। ऐसा लगता है कि मणिशंकर अय्यर में मुगल संस्कार भरे हुए हैं। पीएम ने कहा कि वे कांग्रेस की नजर में भले ही नीच हों लेकिन उन्होंने सारे ऊंचे काम किए हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll