Anushka Sharma Banarsi Saree Look Goes Viral on Social Media

दि राइजिंग न्‍यूज

चेन्‍नई।

 

आज तमिलनाडु राज्य की राजनीति के लिए महत्वपूर्ण दिन है। पिछले साल एआइएडीएमके के ई. पलानीस्वामी सरकार से टी. टी दिनाकरण के गुट वाले 18 विधायकों ने समर्थन वापस ले लिया था। इन सभी विधायकों को स्पीकर पी धनपाल ने अयोग्य ठहरा दिया था, जिसके बाद सभी ने इस फैसले के खिलाफ मद्रास हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। आज दो जजों की बेंच इन्हीं विधायकों की किस्मत पर अपना फैसला सुनाएगी।

कोर्ट के फैसले का सीधा असर राज्य की सरकार पर पड़ सकता है। ऐसे में यदि कोर्ट स्पीकर के फैसले को गलत ठहराती है तो विधानसभा में वर्तमान सरकार को बहुमत सिद्ध करना पड़ेगा। जिसमें पलानीस्वामी को विधायकों की पर्याप्त संख्या जुटाने में परेशानी हो सकती है। माना जा रहा है कि एआइएडीएमके के भी कुछ विधायक अपना पाला बदल सकते हैं। यदि कोर्ट स्पीकर के फैसले को सही मानती है तो सभी 18 विधानसभा सीटों पर दोबारा चुनाव होंगे।

मद्रास हाईकोर्ट करेगी विधायकों की किस्‍मत का फैसला

वर्तमान में तमिलनाडु में विधानसभा की 234 सीटें हैं। जिसमें से एआईएडीएमके के पास 114, डीएमके के पास 98 और टीटीवी के पास एक विधायक हैं। इसके अलावा 18 विधायक ऐसे हैं जिनकी किस्मत का फैसला मद्रास हाईकोर्ट के पास है। इन 18 विधायकों ने दूसरे लोगों के साथ मिलकर पिछले साल 22 अगस्त को राज्यपाल सी विद्यासागर से मुलाकात की थी।

उनका कहना था कि वह पलानीस्वामी सरकार में अपना विश्वास खो चुके हैं। इन्होंने पलानीस्वामी-पन्नीरसेल्वम सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement