Home Top News Live Updates On Karnataka Vidhan Sabha Chunav 2018

तूतीकोरिन हिंसा: कांग्रेस ने PM नरेंद्र मोदी से पूछे 10 सवाल

PM मोदी 29 मई से 2 जून तक इंडोनेशिया और सिंगापुर के दौरे पर रहेंगे

हापुड़ः लूटपाट के इरादे से बदमाशों ने की दिल्ली पुलिस के दरोगा की हत्या

तूतीकोरिन में फिर भड़की हिंसा के बाद भारी सुरक्षा व्यवस्था तैनात

मूनक नहर की मरम्मत मामले में हरियाणा ने दिल्ली HC में दाखिल की रिपोर्ट

 Karnataka Elections 2018: कांग्रेस का दावा- जेडीएस हमारा समर्थन लेने को तैयार

Home | Last Updated : May 15, 2018 04:21 PM IST

Live Updates on Karnataka Vidhan Sabha Chunav 2018


दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

कर्नाटक विधानसभा के नतीजों में किसी को बहुमत मिलती नहीं दिख रही है। इस बीच, कांग्रेस ने भाजपा को रोकने के लिए जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री बनने का ऑफर दिया है। अभी तक के रुझानों में भाजपा 104 सीटों पर आगे चल रही है। वहीं, कांग्रेस 76 और जेडीस 40 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। कांग्रेस ने कहा- सरकार बनाने के लिए जेडीएस को समर्थन देंगे। उसने दावा किया है कि एचडी देवेगौड़ा और कुमारस्वामी को प्रस्ताव मंजूर है। उधर, जेडीएस प्रवक्ता दानिश अली ने कहा 18 मई को शपथ लेंगे। बता दें कि 14 साल पहले 2004 में भी ऐसी ही स्थिति बनी थी। तब भाजपा को 79, कांग्रेस को 65 और जेडीएस को 58 सीटें मिली थीं। इसके बाद जेडीएस और कांग्रेस ने मिलकर सरकार बनाई थी।

“हम जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाएंगे”

गुलाम नबी आजाद ने बेंगलुरु में मंगलवार को कहा हमने देवगौड़ा और कुमारस्वामी से टेलीफोन पर बात की है। उन्होंने हमारे प्रस्ताव को स्वीकार किया है। हम एक साथ मिलकर सरकार बनाएंगे। इससे पहले कांग्रेस नेता जी परमेश्वर ने कहा है- "हम जनादेश को स्वीकार करते हैं। सरकार बनाने के लिए हमारे पास आंकड़े नहीं है। ऐसे में कांग्रेस ने सरकार बनाने के लिए जेडीएस को समर्थन देने की पेशकश की है।"

 

हर वक्त आंकड़े बदलते रहे

मतगणना के शुरुआती आधे घंटे में कांग्रेस ने बढ़त बनाई। इसके बाद एक घंटे तक उसकी भाजपा से कड़ी टक्कर देखने को मिली। लेकिन साढ़े नौ बजे के बाद भाजपा आगे निकलकर बहुमत के करीब तक पहुंच गई। राज्य में भाजपा से ज्यादा वोट शेयर हासिल करने के बाद भी कांग्रेस उसे शिकस्त नहीं दे पाई। बाद में एक वक्त ऐसा आया जब भाजपा को रुझान में 122 सीट तक मिलीं। इसके बाद पार्टी की सीटें कम होती चली गईं और बहुमत से दूर हो गई।

वोट प्रतिशत से बढ़ने से बदल गई सरकार

कर्नाटक में 12 मई को 224 सीटों में से 222 पर एक फेज में चुनाव हुए थे। राज्य के गठन के 46 साल बाद इस बार सबसे ज्यादा 72.13% वोटिंग हुई। 2008 (65.1%) के मुकाबले 2013 (71.45%) में करीब 6% वोटिंग ज्यादा हुई थी। तब सरकार बदल गई थी और भाजपा ने पहली बार राज्य में पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाई थी। इस बार भी ऐसा ही हुआ। कांग्रेस सत्ता से बाहर हो गई।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...