Disha Patani Speaks on Salman Khan for Bharat

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

संसद के बजट सत्र के दूसरे हिस्से का आज चौथा दिन है। गुरुवार को राज्यसभा और लोकसभा में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं को बधाई दी गई। सभी सांसदों ने तालियां बजाकर सदन में मौजूद और देश-दुनिया की महिलाओं को महिला दिवस की शुभकमनाएं दीं।

 

लोकसभा में सभापति सुमित्रा महाजन ने स्वरचित पंक्तियों के जरिए महिलाओं के इस खास दिन की बधाई दी, लेकिन इसके बाद सांसद वेल में आकर नारेबाजी करने लगे और सदन की कार्यवाही को 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया।

राज्यसभा में सभापति वेंकैया नायडू ने भी देश और दुनिया की सभी महिलाओं को सदन की ओर से महिला दिवस की शुभकामनाएं दीं। इस मौके पर सभापति ने एक प्रस्ताव लाने की बात भी कही।

 

राज्यसभा में महिला दिवस के मौके पर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और सांसद अंबिका सोनी ने महिला दिवक से मौके पर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि देश में आज भी महिलाओं को बराबरी का दर्जा हासिल नहीं है, उन्होंने इसके लिए महिला आरक्षण बिल को पारित कराने पर जोर दिया। सांसत अंबिका ने कानून के जरिए महिलाओं को सुरक्षा और सदन में 33 फीसद आरक्षण की मांग की।

कांग्रेस की सांसद रेणुका चौधरी ने भी महिला दिवस के मौके पर महिला के खिलाफ होने वाले अपराध पर लगाम लगाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि महिलाओं को सदन में नहीं बल्कि हर जगह बराबरी का दर्जा मिलना चाहिए। कांग्रेस सांसद कुमारी शैलजा ने भी कहा कि महिला आरक्षण को लेकर सभी दलों के एकमत होकर एक प्रस्ताव करना चाहिए और हमारी पार्टी इसके लिए बिल्कुल तैयार है। कांग्रेस सांसद रजनी पाटिल ने भी अमृता प्रीतम की एक कविता के जरिए सदन में अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि सदन में हमें अपनी बात कहने का मौका और बराबरी का दर्जा चाहिए।

 

संसद में आज का एजेंडा

गुरुवार को संसद के दोनों सदनों में संसद में आज संसद में बैंकिंग क्षेत्र की अनियमितताओं पर चर्चा होगी। इसमें पीएनबी बैंक घोटाला और नीरव मोदी का मुद्दा शामिल है। राज्यसभा में सांसद राजीव चंद्रशेखर इस मुद्दे पर चर्चा की शुरुआत करेंगे। वहीं लोकसभा में बिना वोटिंग के नियम 193 के तहत बैंक घोटाले पर चर्चा प्रस्तावित है।

राज्यसभा में आज पेयजन मंत्रालय की स्थायी समिति की रिपोर्ट पटल पर रखी जाएगी। इस मुद्दे पर नवीवत कृष्षन चर्चा की शुरुआत करेंगे और बीजेपी सांसद शमशेर सिंह अपनी बात सदन में रखेंगे। इसके अलावा कच्चे तेल और पेट्रोलियम उत्पादों के भंडारण पर भी ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पेश किया जाएगा।

 

राज्यसभा में मोटर यान विधेयक को भी पारित किया जाना है, इसमें ट्रैफिक नियमों तोड़ने पर सख्त जुर्माने जैसे कई प्रावधान शामिल हैं। वित्त मंत्री अरुण जेटली आज राज्यसभा में स्टेट बैंक (निरसन और संशोधन) विधेयक पेश कर सकते हैं। सरकार की कोशिश होगी कि ये विधेयक सदन से पारित हो सके। इस विधेयक में बैंकों के विलय के बाद उनके तर्कसंगत इस्तेमाल पर जोर दिया गया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement