Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्‍यूज

जयपुर।

 

फिल्म “पद्मावती” को लेकर विवाद दिनों-दिन बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार को राजस्‍थान के कोटा के मॉल में स्थित सिनेमा हॉल में “पद्मावती” का ट्रेलर दिखाने पर तोड़फोड़ की गई और पथराव भी हुआ। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ा। पुलिस ने मामले में करीब आठ लोगों को गिरफ्तार किया है। साथ ही, कई वाहन भी जब्त किए हैं।

 

 

 

प्राप्‍त‍ि जानकारी के अनुसार, कोटा के एयरोड्रम सर्किल पर स्थित आकाश सिने मॉल में तीन सिनेमा हॉल हैं। आज यहां एक फिल्म के बीच में ही संजय लीला भंसाली निर्देशित फिल्म “पद्मावती” का ट्रेलर दिखाया गया। इस पर सिनेमा हॉल में मौजूद कुछ लोगों ने करणी सेना के पदाधिकारियों को इसकी सूचना दे दी।

 

 

ये पता चलते ही करणी सेना से जुड़े 35-40 लोग आकाश सिने मॉल पहुंचे। इनमें से कुछ अंदर सिनेमा हॉल में जबरन घुस गए और जमकर तोड़फोड़ की। वहीं, बाहर प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना था कि वे किसी भी हाल में फिल्म पद्मावती को यहां रिलीज नहीं होने देंगे। उधर, सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके पर मौजूद प्रदर्शनकारियों को डंडे फटकारकर खदेड़ा।

 

 

 

फिल्म “पद्मावती” आगामी एक दिसंबर को सभी सिनेमाघरों में रिलीज होने वाली है, जिसका ट्रेलर और गाने रिलीज हो चुके हैं। इसको देखकर इसका विरोध यहां राजस्थान के अलग-अलग इलाकों में जारी है।

 

 

उधर, जयपुर में आज आचार्य धर्मेंद्र ने फिल्म की कहानी के साथ ही इसके नाम पर भी आपत्ति जताई है। आचार्य धर्मेंद्र ने कहा है कि चितौड़गढ़ की रानी का नाम “पद्मावती” कभी रहा ही नहीं, उनका नाम तो महारानी “पद्मिनी” था। अब फिल्म का नाम ही गलत है, तो कथानक में क्या होगा? उन्होंने इस संबंध में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को भी पत्र लिखा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll