Home Top News Latest Updates Over Encounter In Srinagar Between Terrorists And And Jammu Kashmir

बिहार म्यूजियम के डिप्टी डायरेक्टर ने डायरेक्टर से की मारपीट

मायावती के बयान से साफ, गठबंधन बनेगा- अखिलेश यादव

कश्मीरः पूर्व मंत्री चौधरी लाल सिंह के भाई को तलाश रही पुलिस, CM के अपमान का केस

गुजरातः आनंद जिले के पास सड़क हादसे में 5 लोगों की मौत

देवेंद्र फडणवीस बोले, पिछले तीन साल में 7 करोड़ शौचालय बने

श्रीनगर: 32 घंटे तक चले एनकाउंटर में दोनों आतंकी ढेर

Home | Last Updated : Feb 13, 2018 08:03 AM IST

Latest Updates over Encounter in Srinagar Between Terrorists and and Jammu Kashmir


दि राइजिंग न्यूज़

श्रीनगर।

 

घाटी में सीआरपीएफ मुख्यालय के पास सोमवार को आतंकियों के खिलाफ शुरू हुआ एनकाउंटर मंगलवार को भी जारी है। सोमवार सुबह करीब 4:30 बजे दो-तीन आतंकियों ने सीआरपीएफ मुख्यालय में हथियारों समेत घुसने की कोशिश की थी, जिसके बाद पास की ही बिल्डिंग में एनकाउंटर चल रहा है। घाटी में सीआरपीएफ मुख्यालय के पास सोमवार को आतंकियों के खिलाफ शुरू हुआ एनकाउंटर मंगलवार को भी जारी है। सोमवार सुबह करीब 4:30 बजे दो-तीन आतंकियों ने सीआरपीएफ मुख्यालय में हथियारों समेत घुसने की कोशिश की थी, जिसके बाद पास की ही बिल्डिंग में एनकाउंटर चल रहा है। 

 

एनकाउंटर के दूसरे दिन आतंकियों पर नज़र रखने के लिए ड्रोन की मदद ली जा रही है। सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के सीनियर अधिकारी भी मौके पर मौजूद हैं। सुरक्षाबलों ने करन नगर के आस-पास के इलाके को घेरा हुआ है। 

आपको बता दें कि जिस बिल्डिंग में आतंकी छुप कर बैठे हैं, वह बिल्कुल नई बनी है। इसी कारण से अभी बिल्डिंग की खिड़कियों में शीशे नहीं है, इसलिए ड्रोन के जरिए अंदर की तस्वीरें भी साफ दिख सकती है।

 

बता दें कि सोमवार को हुए इस हमले की कोशिश में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया था। लश्कर-ए-तैयबा ने सीआरपीएफ के शिविर पर इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी ली है। कश्मीर में इस आतंकी संगठन के सरगना ने ईमेल के जरिए जारी बयान में कहा कि उसके लोगों ने इस हमले को अंजाम दिया।

मुफ्ती ने की थी पाकिस्तान से बात की पैरवी

सोमवार को जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने राज्य में हिंसा खत्म करने के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच नए सिरे से बातचीत की पैरवी की थी मुख्यमंत्री ने कुछ मीडिया समूहों पर निशाना साधा और दावा किया कि मीडिया ने ऐसा माहौल तैयार कर दिया जिसमें बातचीत के बारे में जिक्र करना भी राष्ट्र विरोधी मान लिया गया है।

उन्होंने राज्य विधानसभा में कहा, “अगर फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती पाकिस्तान के साथ बातचीत करने को कहते हैं तो उन्हें राष्ट्र विरोधी करार दिया जाता है। बातचीत के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है।”



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...