Home Top News Latest Updates Of Terror Funding Case

गुरुग्राम: बीजेपी नेता सूरज पाल अम्मू के खिलाफ दर्ज हुई FIR

J-K: हंदवाड़ा मुठभेड़ में तीन लश्कर आतंकी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

WB: 24 परगना के एक आश्रम से 25 अंडर ट्रायल किशोर फरार, 7 पकड़े गए

लुधियाना अपडेट: जिला आयुक्त ने बताया निकाले गए 10 शव, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

तमिलमनाडु: रामनाथपुरम में 4 भारतीय मछुआरों को श्रीलंका नेवी ने किया अरेस्ट

टेरर फंड‌िंगः 36 करोड़ की पुरानी करेंसी मामले में गिरफ्तार सब इंस्पेक्टर सस्पेंड

Home | 08-Nov-2017 09:55:33 | Posted by - Admin
  • सभी नौ आरोपी एनआइए के हवाले
   
Latest Updates of Terror Funding Case

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

सोमवार को राजधानी दिल्‍ली के कनॉट पैलेस इलाके से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 36 करोड़ रुपये के पुराने नोट बरामद किए थे। इस मामले में दिल्ली पुलिस के सब-इंस्पेक्टर भगवान सिंह समेत नौ लोगों को गिरफ्तार किया था।

 

बुधवार को दिल्ली पुलिस ने अपने सब-इंस्पेक्टर भगवान सिंह को सस्पेंड कर दिया है। इसी के साथ ही सभी नौ आरोपियों को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें 21 नवंबर तक एनआइए की कस्टडी में भेज दिया है।

 

बता दें क‌ि 1000 और 500 रुपये के बंद किए गए नोटों के ये बंडल चार लग्जरी गाड़ियों में मिले थे। पुलिस ने इस मामले में कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया था। बताया जा रहा है कि इन नोटों का जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकियों और अलगाववादियों से संबंध हैं।

 

एनआइए के एक प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि एजेंसी की टीम ने सोमवार को राजधानी के कनॉट प्लेस इलाके में सात लोगों को पकड़ा। उनके पास से 28 कॉर्टन में रखे हुए 1000 और 500 रुपये के प्रतिबंधित नोटों के बंडल बरामद हुए।

ये नोट बीएमडब्ल्यू एक्स3, ह्यूंडई क्रेटा एसएक्स, फोर्ड इकोस्पोर्ट और बीएमडब्ल्यू एक्स1 जैसी लग्जरी गाड़ियों में रखे हुए थे। इन सभी को पूछताछ के लिए एनआइए मुख्यालय लाया गया। उनके पास से कुल 36.34 करोड़ रुपये के प्रतिबंधित नोट बरामद हुए। मंगलवार देर शाम को उनके तीन और साथियों को दबोचा गया।

 

अधिकारी ने बताया कि शुरुआती पूछताछ के बाद कुल नौ लोगों को टेरर फंडिंग मामले में गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि बैन किए गए नोटों को नए नोटों से बदला जा रहा था।

 

इनकी हुई गिरफ्तारी

एनआइए द्वारा पकड़े गए लोगों में दिल्ली निवासी प्रदीप चौहान, भगवान सिंह और विनोद श्रीधर शेट्टी शामिल हैं। इसके अलावा मुंबई निवासी दीपक तोपरानी, अमरोहा के रहने वाले एजाज-उल-हसन, नागपुर के जसविंदर सिंह और जम्मू-कश्मीर के निवासी उमर मुश्ताक डार (पुलवामा), शहनवाज मीर (श्रीनगर) और माजिद यूसुफ सोफी (अनंतनाग) शामिल हैं।

एनआइए के प्रवक्ता के अनुसार, उन्हें कश्मीर घाटी में टेरर फंडिंग मामले की जांच के दौरान इन लोगों की गतिविधियों के बारे में सूचना मिली थी। जांच के बाद यह पता चला कि ये लोग और संस्थाएं अलगाववादियों और आतंकियों से जुड़ी हैं। इनके पास काफी मात्रा में बैन कर दी गई करेंसी है, जिन्हें ये नए नोटों से बदल नहीं पाए हैं। इन सभी लोगों और संस्थाओं पर नजर रखी जा रही थी।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...



TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news

खेल-कूद