Actress Jhanvi kapoor  Shares The Image of Dhadak Sets on Social Media

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

देश की उच्चतम न्यायालय यानी सुप्रीम कोर्ट, शुक्रवार को देश के सभी स्कूलों में बच्चों की सुरक्षा को लेकर दायर एक याचिका पर सुनवाई करेगी। यह याचिका कई महिला वकीलों द्वारा संयुक्त रूप से दाखिल की गई है। याचिका में कहा गया है कि स्कूलों में सुरक्षा को लेकर गाइडलाइंस तो हैं लेकिन उन्हें कोई फॉलो नहीं करता है। गौरतलब है कि गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुई प्रद्युम्न की हत्या के बाद स्कूलों की सुरक्षा पर सवाल उठ रहे हैं।

चंडीगढ़ हाईकोर्ट में बेल के लिए याचिका करेगा पिंटो परिवार

 

वहीं इससे अलग बॉम्बे हाईकोर्ट से अग्रिम जमानत की याचिका खारिज होने के बाद रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मालिक पिंटो परिवार अब चंडीगढ़ हाईकोर्ट में याचिका दाय र करेंगे। हाई कोर्ट ने पिंटो परिवार को शुक्रवार की शाम तक अपने-अपने पासपोर्ट मुंबई पुलिस के पास जमा कराने का आदेश दिया है। प्रद्युम्न की हत्या के बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए रेयान स्कूल के मालिकों ने हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी।

CBSE दायर करेगी अपनी रिपोर्ट

 

प्रद्युम्न हत्या मामले में सीबीएसइ शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट दाखिल करेगी। सीबीएसइ की जांच में स्कूल की घोर लापरवाही का खुलासा हुआ था। सीबीएसइ के मुताबिक स्कूल में सुरक्षा नियमों का उल्लंघन किया गया। इस मामले की जांच कर रही पांच सदस्यों की टीम ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि स्कूल के बाथरूम के बाहर का सीसीटीवी काम नहीं कर रहा था। वहीं तय मापदंडों के विपरीत स्कूल की बाहरी दीवार छोटी थी, जिससे कोई भी स्कूल में दाखिल हो सकता था।

पहले भी मिल चुकी है राहत

 

बताते चलें कि प्रद्युम्न मर्डर केस में रेयान इंटरनेशनल स्कूल मैनेजमेंट पर हरियाणा पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। इससे पहले भी बॉम्बे हाई कोर्ट ने पिंटो फैमिली की अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनवाई करते हुए उन्हें गुरुवार तक की राहत दी थी। इससे पहले मंगलवार को भी हाई कोर्ट ने उन्हें एक दिन की राहत दी थी। जिसके तहत ग्रेस पिंटो, ऑगस्टीन पिंटो और रेयान पिंटो को फौरी राहत मिल गई थी।

क्या है पूरा मामला?

 

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बीते शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। इस मामले में बस कंडक्टर अशोक समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस द्वारा पूछताछ में आरोपी अशोक कुमार ने अपना जुर्म कबूल कर लिया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement