Box Office Collection of Raazi

दि राइजिंग न्यूज़

गुडगांव।

 

शहर के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न की हत्या के बाद स्कूल के टीचर्स ने दो बच्चों से जबरन प्रद्युम्न की खून से सनी बोतल धुलवाई थी। इसके साथ ही खून से सने प्रद्युम्न के बैग से उसकी डायरी निकालने के लिए भी टीचर्स ने बच्चों को कहा था। इस बात का खुलासा खुद उन बच्चों के अभिभावकों ने किया है, जिनसे टीचर्स ने ये काम कराया था।

 

प्रद्युम्न की क्लास में पढ़ने वाले आदित्य के पिता ने मीडिया से बातचीत में खुलासा किया कि प्रद्युम्न की हत्या के बाद वहां मौजूद स्कूल का कोई भी टीचर या स्टाफ उसकी खून से सनी बोतल और बैग को हाथ लगाने के लिए तैयार नहीं था। इसी दौरान उनके बेटे आदित्य से जबरन टीचर्स ने खून से सनी पानी की बोतल धुलवाई थी। तभी से आदित्य सहमा हुआ है। वह स्कूल जाने को भी तैयार नहीं है।

इसी तरह से प्रद्युम्न की क्लासमैट एक बच्ची के पिता प्रशांत ने खुलासा किया कि उनकी बेटी भी क्लास में प्रद्युम्न के खून से सने बैग और बोतल को देखकर डर गई थी। कोई टीचर उसका बैग छूने को तैयार नहीं थी। तभी जबरन टीचर्स ने उनकी बेटी से खून से सना बैग खोलकर प्रद्युम्न की डायरी निकालने के लिए कहा था।

 

प्रशांत का कहना है कि एक बात समझ में नहीं आई कि प्रद्युम्न का बैग और बोतल घटना स्थल से हटाकर क्लास में क्यों रखा गया था। और बच्चों से ये सब काम क्यों कराया गया। इस हादसे के बाद बच्ची भी बहुत डरी हुई है।

बताते चलें कि मुंबई उच्च न्यायालय ने गुरुवार को रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मालिकों की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी। साथ ही हाई कोर्ट ने पिंटो परिवार को शुक्रवार की शाम तक अपने-अपने पासपोर्ट मुंबई पुलिस के पास जमा कराने का आदेश दिया है।

 

प्रद्युम्न की हत्या के बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए रेयान स्कूल के मालिकों ने हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी। बंबई उच्च न्यायालय ने गुरुवार को रेयान इंटरनेशनल स्कूल के मालिकों की याचिका पर सुनवाई करते हुए अग्रिम जमानत देने से साफ इनकार कर दिया।

ये है पूरा मामला

 

गौरतलब है कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बीते शुक्रवार को दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के प्रद्युम्न के साथ कुकर्म की कोशिश करने के बाद उसकी गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। इस मामले में बस कंडक्टर अशोक समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस द्वारा पूछताछ में आरोपी अशोक कुमार ने अपना जुर्म कबूल कर लिया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll