Sonam Kapoor to Play Batwoman

दि राइजिंग न्‍यूज

अहमदाबाद।

 

गुजरात में अपनी चुनावी रैलियों में राहुल को घेरने के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर के आर्क बिशप को जवाब दिया है। अहमदाबाद में प्रधानमंत्री ने कहा, "हमने कोई धर्म, कोई जाती नहीं देखी सिर्फ देशभक्ति और मानवता देखी। हम सबका साथ सबका विकास की राह पर चल रहे हैं।''

 

 

पीएम मोदी ने कहा, ''जो लोग राष्ट्रवादियों के खिलाफ फतवा जारी कर रहे हैं उन्हें याद रखना चाहिए कि हम कितनी मेहनत से फादर टॉम को विदेश से लेकर आए थे। जब तमिलनाडु में उनके परिवार को बताया गया तो उन्हें विश्वास नहीं हुआ कि उनता बेटा ढाई साल बाद वापस आ रहा है।''

उन्‍होंने कहा, ''फादर प्रेम को भी बचाकर लाए थे, जिनका अफगानिस्तान में अपहरण कर लिया गया था। ये हमारा राष्ट्रवाद है कि हम फादर टॉम और फादर प्रेम को वापस लेकर आए।''

 

पीएम मोदी ने आगे कहा, ''हम केरल की नर्सों को छुड़ा कर लाए, इनमें ईसाई भी थीं। दुनिया भर में जिसकी मदद लेनी थी ली लेकिन ईसाई समाज की बेटियों को वापस लाए, ये हमारी देशभक्ति ही थी।”

 

आर्क बिशप ने ईसाई समुदाय को लिखी थी चिट्ठी

ईसाई समुदाय को लिखी चिट्ठी में आर्क बिशप ने लिखा था, ''गुजरात चुनाव के परिणाम महत्वपूर्ण हैं और हमारे देश की भविष्य की प्रगति को प्रभावित करेंगे। हमारे देश का धर्मनिरपेक्ष और लोकतांत्रिक ढांचा दांव पर हैं।

मानव अधिकारों का उल्लंघन हो रहा है और संवैधानिक अधिकार कुचले जा रहे हैं। अल्पसंख्यकों, अन्य पिछड़े जाति (ओएबीसी), अनुसूचित जाति (एससी), गरीबों आदि के बीच असुरक्षा की भावना बढ़ रही है और राष्ट्रवादी ताकतें देश को अपने नियंत्रण में लेने के कगार पर हैं।"

 

 

ईसी ने जारी किया था नोटिस

चुनाव आयोग ने आर्क बिशप थॉमस मैकवान को नोटिस जारी करते हुए उनसे देश के पादरियों को पत्र लिखने के मामले में जवाब मांगा था। निर्वाचन आयोग ने जिला कलेक्टर के जरिए आर्कबिशप को नोटिस जारी किया और उनसे पत्र लिखने का मकसद स्पष्ट करने के लिए कहा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll