New Song of Sanju Ruby Ruby Released

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

पैराडाइज पेपर्स के खुलासे ने दुनिया भर को हिला दिया है। इस केस में कई भारतीयों के भी नाम सामने आए है। मोदी सरकार में मंत्री जयंत सिन्हा और बीजेपी के राज्यसभा सांसद आरके सिन्हा का भी नाम इन खुलासों में आया था। जयंत सिन्हा ने तो मामले में सफाई दे दी थी, लेकिन आरके सिन्हा ने मामले पर चुप्पी साधते हुए मौन व्रत धारण कर लिया था। बुधवार को उन्होंने अखबार में विज्ञापन निकाल कर अपनी सफाई पेश की है।

 

आरके सिन्हा ने विज्ञापन के जरिए उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से अपील की है कि अखबार की रिपोर्ट से उनके विशेषाधिकार का हनन हुआ है और उनके सम्मान को ठेस पहुंची है। इसीलिए अखबार के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाए।

इसके अलावा सिन्हा ने दावा किया है कि पैराडाइज पेपर्स खुलासे में जो भी उनपर आरोप लगे हैं वो सभी निराधार हैं। विदेश में स्थित उनकी कंपनी SIS (सिक्योरिटी एंड इंटेलिजेंस सर्विसेज) ने कोई भी गलत काम नहीं किया है। उन्होंने कहा कि उनकी कंपनी ने टैक्स चोरी, मनी लॉन्ड्रिंग और विदेशों में पैसा पार्क करने के किसी भी कृत में लिप्त नहीं है।

 

आरके सिन्हा ने जारी किया है ये विज्ञापन...

 

धारण किया है 7 दिन का मौन व्रत

 

मामले ने तब नाटकीय मोड़ ले लिया था, जब खुलासों के बाद पत्रकार सिन्हा से सवाल पूछने गए लेकिन उन्होंने यह लिखते हुए चुप्पी साध ली कि फिलहाल अगले सात दिनों तक पूजा-पाठ के चलते वह कुछ भी नहीं बोल सकते। उन्होंने मीडिया के सामने ही कागज पर सिन्हा के लिखित वक्तव्य के मुताबिक वह एक धार्मिक अनुष्ठान के चलते अगल 7 दिनों तक मौन व्रत पर हैं लिहाजा उनके लिए कुछ भी बोलना मुमकिन नहीं है।

क्या था खुलासा?

 

खुलासे में जो आकंड़ें आए थे, उसके मुताबिक सिन्हा की कंपनी SIS इंटरनेशनल होल्डिंग को टैक्स हैवन ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में स्थित है और उनकी पहली विदेशी कंपनी के पास इस कंपनी के 3,999,999 शेयर्स मौजूद हैं। हालांकि, रविन्द्र सिन्हा के पास इस कंपनी का महज एक शेयर मौजूद है। गौरतलब है कि एसआईएस इंटरनैशनल होल्डिंग में सिन्हा, उनकी पत्नी रीता किशोर सिन्हा और बेटा रितुराज किशोर सिन्हा बतौर डायरेक्टर नियुक्त हैं।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll