Home Top News Latest And Trending Updates Over Gujarat Vidhan Sabha Elections 2017

जज लोया मौत केसः SC ने कहा- नहीं होगी सीबीआई जांच

जज लोया मौत केसः SC ने कहा- जजों के बयान पर शक की वजह नहीं

दिल्ली पुलिस पीसीआर पर तैनात एएसआई धर्मबीर ने खुद को गोली मारी

दिल्ली: केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह ने की IOC प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात

बिहार: पटना के एटीएम में कैश ना होने से स्थानीय लोग परेशान

गुजरात चुनाव: मुस्लिम घरों पर “क्रॉस” का निशान, इलाके में दहशत

Home | 14-Nov-2017 15:15:13 | Posted by - Admin
   
Latest and Trending Updates over Gujarat Vidhan Sabha Elections 2017

दि राइजिंग न्यूज़

गांधीनगर।

 

आगामी गुजरात विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिशें भी दिखने लगी हैं। दरअसल, अहमदाबाद के पालडी इलाके में मुस्लिम मकानों पर लाल और पीले रंग का क्रॉस लगा पाया गया।

 

चौकानें वाली बात यह है कि इससे पहले इसी इलाके में सांप्रदायिक ध्रुवीकरण वाले पोस्टर भी देखे गए थे। उन पोस्टरों में लिखा गया था- पालडी को जुहापुरा बनने से बचाएं। बता दें कि जुहापुरा गुजरात का मुस्लिम बाहुल्य इलाका है जबकि पालडी में हिंदू-मुसलमान लंबे अरसे से साथ-साथ रह रहे हैं।

अपने घरों के बाहर लगे इस निशान को देखकर वहां के लोग भयभीत हैं और सांप्रदायिक तनाव भंड़काने की आशंका जता रहे हैं। इन लोगों ने चुनाव आयोग और पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखकर इस मामले की जांच कराने की मांग की है। इस पत्र में उन्होंने आशंका जताई कि निशान लगाने का मकसद मुस्लिम इलाकों की पहचान करना है, जिससे उन्हें निशाना बनाया जा सके।

 

ऐसे ही निशान मौलाना आजाद उर्दू यूनिवर्सिटी के चांसलर जफर सरेसवाला के घर पर भी लगे मिले। इसे लेकर जब सरेशवाला से बात की गई तो उन्होंने कहा, “मोदी साहब सबका साथ, सबका विकास की बात कर रहे हैं। इस तरह की नफरत फैलाने वाली मुहिम 2002 के चुनाव के दौरान भी नहीं हुए थे। क्या हमें यह विश्वास करना चाहिए कि यह बीजेपी मोदी के साथ नहीं है?”

वहीं पालडी में दिखे इन निशानों की खबर सामने के बाद प्रशासन हरकत में आया और इन निशानों के ऊपर चूना पोताई की गई। हालांकि इसे लेकर प्रशासनिक अधिकारियों से भी कोई संतोषप्रद जवाब नहीं मिल पाया। नगर निगम के अधिकारियों के अधिकारियों की मानें तो ये निशान सफाई अभियान के तहत लगाए गए हैं, जबकि नगर आयुक्त मुकेश कुमार का कहना है कि ये निशान निगम कर्मचारियों द्वारा लगाए गए निशान से अलग हैं। इस बीच अहमदाबाद के पुलिस कमिश्नर एके सिंह ने कहा है कि उन्होंने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

Merchants-Views-on-Yogi-Government-One-Year-Completion




Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news