Salman Khan father Salim Khan Support MeToo Campaign in Bollywood

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

हिमाचल में विधानसभा चुनाव की वोटिंग होने के बाद गुजरात में भी वोटिंग पूरी हो चुकी है। इसके साथ ही एग्जिट पोल के नतीजे भी सामने आ गए। ये नतीजे कांग्रेस के नए अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए बुरी खबर की आहट लेकर आए हैं। महीनों की जी तोड़ मेहनत और सधे जातीय समीकरणों के बावजूद कांग्रेस एक्जिट पोल के मुताबिक हिमाचल में सत्ता गंवा रही है जबकि गुजरात में भी उसकी सीटों में कोई खास इजाफा नहीं दिख रहा।

 

 

अध्यक्ष बनने से पहले राहुल जिस तैयारी और तेवर के साथ गुजरात चुनाव में उतरे, वो अभूतपूर्व थी। उनका आत्मविश्वास बढ़ा हुआ साफ नज़र आ रहा था। यह नया अवतार कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में उनके नए दायित्व को और मज़बूत भी करता है, लेकिन अध्यक्ष के रूप में उनके नाम की घोषणा के एक सप्ताह बाद ही गुजरात और हिमाचल के विधानसभा चुनाव परिणाम आ रहे हैं और अगर एग्जिट पोल के नतीजे सच साबित हुए तो राहुल को कुछ तीखे सवालों के जवाब देने होंगे।

 

 

राहुल के आलोचक कहते हैं कि उनके पूरे राजनीतिक करियर में केवल और केवल हार ही बसी हुई है। वो जहां भी प्रचार करने गए, पार्टी हारती रही, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष का पद उनकी मां सोनिया गांधी के पास होने के कारण राहुल की मौजूदगी में हार कांग्रेस पार्टी की हार भी मानी जाती रही। अब, जबकि वो पार्टी अध्यक्ष बन गए हैं और एक बाहरी चेहरे के बजाय गुजरात में लोगों के बीच रचे-बसे नज़र आ रहे थे, गुजरात और हिमाचल चुनाव में कांग्रेस का हारना सीधे तौर पर उनकी हार मानी जाएगी। आलोचक कहेंगे कि चाहे कमान, पार्टी और सर्वाधिकार राहुल को दे दो, उनकी किस्मत में हार ही है।

 

 

राहुल निःसंदेह नए अवतार में नज़र आ रहे हैं, उनके बारे में लोगों के बीच धारणा तेजी से बदलती महसूस हो रही है। राहुल का आत्मविश्वास बेहतर नज़र आ रहा है और उनका बोलना, चीज़ों का जवाब देना, हाज़िरजवाबी भी सुधरी नज़र आ रही है। पहली बार राहुल एक परिपक्व नेता की तरह दिखाई दे रहे हैं। उन्हें विपक्ष भी मृगछौना मानने की भूल नहीं कर सकता है, लेकिन गुजरात की हार उनपर हास-परिहास के तीखे हमले फिर से करने का मौका खोल देगी।

 

 

राहुल की छवि में सुधार को इस वक्त एक प्रत्यक्ष प्रमाण की जरूरत है, लेकिन एग्जिट पोल के मुताबिक गुजरात चुनावों में उसे ये प्रमाण मिलता नहीं दिखता।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement