Rani Mukerji to Hoist the National flag at Melbourne Film Festival

दि राइजिंग न्यूज़

रांची।

 

सीबीआइ की विशेष अदालत ने चारा घोटाला मामले में झारखंड के पूर्व मुख्य सचिव और चाईबासा के तत्कालीन डिप्टी कमिश्नर सजल चक्रवर्ती को दोषी करार दिया है। कोर्ट सजा का ऐलान 21 नवंबर को करेगी। सजल चक्रवर्ती पर आरोप था कि वे चाईबासा के डिप्टी कमिश्नर के पद पर रहते हुए सरकारी कोषागार पर नियंत्रण नहीं रख पाए। इस वजह से कोषागार से बड़ी राशि निकाली जाती रही।

दरअसल ये पशुपालन घोटाला था क्योंकि मामला सिर्फ चारे का नहीं है। यह घोटाला बिहार सरकार के खजाने से गलत ढंग से पैसे निकालने का है। पशुपालन विभाग के अधिकारियों और ठेकेदारों ने राजनीतिक मिलीभगत से कई सालों के दौरान करोड़ों रुपये निकाले।

गौरतलब है 2013 में मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव को चाईबासा कोषागार से 900 करोड़ के सावर्जनिक फंड में धोखाधड़ी को लेकर दोषी ठहराया गया था। लालू यादव को सुप्रीम कोर्ट ने चारा घोटाले के एक मामले में दोषी ठहराया और पांच सालों की सज़ा मिली। सुप्रीम कोर्ट ने इस फैसला के बाद उन्हें सांसद का पद छोड़ना पड़ा था। सजायाफ्ता होने के कारण वे चुनाव नहीं लड़ पाए। हालाँकि अपनी पार्टी के अध्यक्ष के तौर पर वे राजनीति में सक्रिय हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll