Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्यूज़

चंडीगढ़।

 

साध्वी से बलात्कार के जुर्म में रोहतक की सुनारिया जेल में 20 साल की सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम के डेरे की चेयरपर्सन विपश्यना इंसान लापता है। उसकी तलाश में डेरे पर पुलिस ने दो बार छापेमारी की है, लेकिन उसके बारे में कोई जानकरी नहीं प्राप्त कर पाई। पुलिस ने उसके खिलाफ अरेस्ट वारंट इशू कराया है। उसके खिलाफ चार बार समन जारी हुआ, लेकिन वह एक बार भी पेश हुई थी।

 

इससे पहले सिरसा डेरे पर डीसीपी के साथ एसआइटी पहुंची थी। डेरे की तलाश ली गई थी, लेकिन विपश्यना इंसान का कुछ नहीं पता चला, आशंका है कि उसे पुलिस के आने की सूचना मिल गई होगी। इसलिए उनके आने से पहले ही वह वहां से चली गई। एसआइटी ने उस कमरे का भी निरीक्षण किया था, जहां पंचकूला हिंसा के लिए हनीप्रीत ने मीटिंग बुलाई थी।

इस छापेमारी के दौरान पंचकूला के डीसीपी मनबीर सिंह, एसआइटी इंचार्ज मुकेश मल्होत्रा समेत एसआइटी टीम के सदस्य मौजूद रहे थे। इसके साथ ही रविवार को राम रहीम के दाहीने हाथ माने जाने वाले डॉ महिंदर इंसान को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। वह डेरे में छिपा हुआ बैठा था। उस पर डेरे में अनुयायियों को खुद ऑपरेशन कर नपुंसक बनाने का आरोप है।

 

बताते चलें कि राम रहीम के पूर्व ड्राइवर खट्टा सिंह ने खुलासा किया था कि राम रहीम के आश्रम में महिलाओं का सिर्फ यौन शोषण ही नहीं बल्कि साधुओं को नपुंसक बनाया जाता है। डेरा सच्चा सौदा में साधु रहे हंसराज चौहान ने 17 जुलाई 2012 को हाईकोर्ट में याचिका दायर कर राम रहीम पर 400 साधुओं को नपुंसक बनाए जाने का आरोप लगाया था।

उन्होंने कहा कि डेरा प्रमुख के इशारे पर डेरा अस्पताल के डॉक्टरों की टीम साधुओं को नपुंसक बनाती हैं। उन्होंने 166 साधुओं का नाम भी बताया था। हंसराज ने कहा था कि राम रहीम के आश्रम में प्रार्थना के बाद नशे का कैप्सूल दिया जाता था। इसके बाद उसके साथ क्या होता, उसे भी मालूम नहीं होता था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement