Home Top News Latest And Trending Updates Over Demonetization Anniversary

गुरुग्राम: बीजेपी नेता सूरज पाल अम्मू के खिलाफ दर्ज हुई FIR

J-K: हंदवाड़ा मुठभेड़ में तीन लश्कर आतंकी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

WB: 24 परगना के एक आश्रम से 25 अंडर ट्रायल किशोर फरार, 7 पकड़े गए

लुधियाना अपडेट: जिला आयुक्त ने बताया निकाले गए 10 शव, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

तमिलमनाडु: रामनाथपुरम में 4 भारतीय मछुआरों को श्रीलंका नेवी ने किया अरेस्ट

GST पर सरकार ने हमारी नहीं सुनी: राहुल

Home | 08-Nov-2017 18:15:51 | Posted by - Admin
   
Latest and Trending Updates over Demonetization Anniversary

दि राइजिंग न्यूज़

सूरत।

 

नोटबंदी की पहली सालगिरह पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात के सूरत में व्‍यापारियों का हालचाल लेने पहुंचे। वहां मीडिया से बात करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि जीएसटी लागू करने से पहले उनकी बात नहीं सुनी गई।

राहुल बोले कि जीएसटी में पांच स्लैब नहीं होने चाहिए और सबसे ज्यादा टैक्स 18 प्रतिशत होना चाहिए था। इस बातचीत में नोटबंदी को शामिल किया जा सकता है।

 

यहां व्यापारियों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार की नीतियों पर जमकर वार किया। राहुल गांधी ने कहा कि अगर मोदी सरकार बड़े उद्योगपतियों पर किए गए खर्च का 15 फीसदी भी सूरत में लगाती तो तस्वीर कुछ और ही होती।

 

 

राहुल ने यहां कारोबारियों के बीच भरोसा जगाने की भी भरपूर कोशिश की। उन्होंने कहा, मैं जो वादा पूरा कर सकता हूं वही करता हूं। एक बार जब मैं कुछ ठान लेता हूं तो फिर पीछे नहीं हटता।

 

इससे पहले राहुल गांधी को तब असहज स्थ‍िति का सामना करना पड़ा, जब न्यू टेक्सटाइल मार्केट में कुछ लोगों ने मोदी-मोदी के नारे लगाए। इससे कांग्रेस और बीजेपी कार्यकर्ताओं में हाथापाई तक की नौबत आ गई।

 

 

हीरा तराशने के सीखे गुर

राहुल सूरत के प्रसिद्ध हीरा कारोबार के केंद्र पर भी पहुंचे और उन्होंने हीरा व्यापारियों की समस्याएं सुनीं। इस दौरान उन्होंने वर्कर्स से हीरा तराशने के गुर भी सीखे। नोटबंदी से हीरा व्यापारियों को भी काफी दिक्कतें हुई हैं।

 

 

नोटबंदी के विरोध में जुलूस

राहुल गांधी सूरत के विभिन्न मैन्युफैक्चरिंग यूनिट का दौरा कर रहे हैं। उन्होंने कपड़ा, एम्ब्रॉयडरी, डाइंग आदि यूनिट्स का दौरा किया और वहां वर्कर्स से मिले। राहुल सूरत के दिन भर के दौरे पर हैं। वह शाम को नोटबंदी की पहली वर्षगांठ पर सूरत में आयोजित कैंडल लाइट जुलूस में भी शामिल होंगे।

 

 

सूरत पहुंचने पर मीडिया से बातचीत में राहुल ने कहा कि जीएसटी के पांच स्लैब काम नहीं कर सकते। उन्होंने कहा, “हमने टैक्स की अधिकतम सीमा 18% पर रखने की मांग की थी, लेकिन हमारी बात नहीं सुनी गई। हमारा प्वाइंट बेहद सामान्य है, जीएसटी में सुधार की जरूरत है।” सूरत में राहुल गांधी ने सड़क किनारे एक गुमटी पर रुक कर चाय भी पी।

 

कपड़ा कारोबार के लिए मशहूर सूरत में राहुल गाधी ने डाई कारखाने में कारीगरों के साथ भी वक्त बिताया और नोटबंदी के कारण उन्हें हुईं दिक्कतें सुनी। उन्होंने कहा कि कभी सूरत चीन को टक्कर दे रहा था, लेकिन नोटबंदी और जीएसटी ने सूरत की कमर तोड़ दी। उन्होंने कहा, “एक साल पहले नोटबंदी ने देश के गरीब किसानों, छोटे-मंझोले व्यापारियों पर हमला कर दिया।”

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...



TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news

खेल-कूद