Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

मौजूदा समय में बिटकॉइन सबसे ज्यादा पॉप्युलर करंसी बन गई है। फिलहाल एक बिटकॉइन 20000 डॉलर के पार पहुंच गया है। हालांकि जिस तेजी से बिटकॉइन बढ़ रहा है, उससे इससे टैक्स चोरी की आशंका भी बढ़ गई है। इसी को देखते हुए इनकम टैक्स विभाग ने देशभर के बिटकॉइन एक्सचेंज का सर्वे करना शुरू कर दिया है।

 

कालेधन का रास्ता तो नहीं बन रहा बिटक्वॉइन

 

सूत्रों के हवाले से कहा है कि आयकर विभाग को आशंका है कि बिटकॉइन  में निवेश अब कालेधन का सबसे सुरक्षि‍त जरिया बनने लगा है। इसी वजह से उन्होंने देशभर के बिटकॉइन  एक्सचेंज के बारे में जानकारी जुटानी शुरू कर दी है।

9 एक्सचेंज का किया सर्वे

 

उन्होंने बताया कि बेंगलुरु जांच टीम के नेतृत्व में बुधवार को आयकर विभाग की कुछ टीमों ने देश के 9 एक्सचेंज के कार्यालयों में पहुंचे। ये एक्सचेज दिल्ली, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोच्चिन, गुरुग्राम समेत अन्य जगहों पर हैं।

 

जुटाई जा रही जानकारी

 

यह सर्वे इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 133ए के तहत किया जा रहा है। इस सर्वे के जरिये आयकर विभाग बिटकॉइन में निवेश करने वालों की पहचान और उनके निवेश से जुड़ें आंकड़े इकट्ठा करने में जुटी हुई है। इसके अलावा निवेशकों की तरफ से अब तक कितना लेनदेन बिटकॉइन में किया गया है। उनकी तरफ से किए गए निवेश को लेकर भी जानकारी जुटाई जा रही है।

सूत्रों के मुताबिक सर्वे करने वाली टीम के पास इन एक्सचेंज के वित्तीय लेनदेन को लेकर काफी डाटा मौजूद है। इसी आधार पर यह सर्वे किया जा रहा है।  इस सर्वे का मकसद कालेधन को छुपाने की कोशिश करने वालों पर श‍िकंजा कसना है।

 

क्या है बिटक्वॉइन

 

बिटकॉइन  की शुरुआत जनवरी 2009 में हुई थी। इस वर्चुअल करंसी का इस्तेमाल कर दुनिया के किसी कोने में किसी व्यक्ति को पेमेंट किया जा सकता है और सबसे खास बात यह है कि इस भुगतान के लिए किसी बैंक को माध्यम बनाने की भी जरूरत नहीं पड़ती।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement