Home Top News Latest And Trending Updates Of Sunjuwan Terror Attack

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को हॉस्पिटल ले जाने के दौरान साथियों ने पुलिस बल पर किया हमला

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को छुड़ाने की कोशिश, हमले में एक सिपाही की मौत

मुंबईः पीएनबी घोटाले मामले में तीनों आरोपी सीबीआई कोर्ट पहुंचे

दिल्लीः मुख्य सचिव ने पुलिस में आप विधायकों के खिलाफ केस दर्ज कराई

दिल्लीः मुख्य सचिव ने कहा, आप विधायकों के साथ मारपीट में मेरा चश्मा नीचे गिर गया

सुंजवां हमला: सेना का ऑपरेशन खत्‍म, चार आतंकियों को किया ढेर

Home | 12-Feb-2018 09:55:05 | Posted by - Admin
   
Latest and Trending Updates of Sunjuwan Terror Attack

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

शनिवार सुबह हुए जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में सेना के पांच जवान शहीद हुए। वहीं रविवार को सेना ने इस ऑपरेशन को समाप्त कर दिया, इस ऑपरेशन में कुल चार आतंकियों को मार गिराया गया। आतंकियों ने सुबह-सुबह हमला कर दिया था।

इस हमले में 50 वर्षीय सूबेदार मदन लाल चौधरी ने भी शहादत दी। सीने में गोली लगने के बाद भी मदन लाल अकेले ही आतंकियों से भिड़ गए और अपनी अंतिम सांस तक देश के लिए लड़ते रहे। मदन लाल ने अपनी जान तो गंवाई, लेकिन उन्होंने आतंकियों को परिवारों की तरफ नहीं आने दिया।

 

आतंकियों की गोलीबारी में सूबेदार मदनलाल चौधरी घायल हुए थे। उन्हें एके-47 से मारी गई गोली लगी थी। आतंकियों ने सेना के फैमिली क्वार्टर पर हमला किया था, उस दौरान मदनलाल का परिवार भी वहीं था। सूबेदार का परिवार अपने किसी रिश्तेदार की शादी के लिए सामान की खरीदारी करने आया था।

उनकी शहादत के बाद उनके भाई सुरिंदर चौधरी ने कहा कि आतंकियों से लड़ते हुए उन्होंने अपनी जान गंवा दी, फिर भी अपने परिवार और दूसरों लोगों को बचा लिया। उन्होंने बताया कि जिस दौरान आतंकियों ने हमला बोला तो मदनलाल ने सबसे पहले पीछे के गेट से परिवार वालों को सुरक्षित निकाला और उसके बाद खुद ही आतंकियों से दो-दो हाथ करने लगे।

 

गोलीबारी में मदनलाल चौधरी की 20 वर्षीय बेटी नेहा के पैर में गोली लगी, उनके अलावा परिवार के कुछ सदस्यों को मामूली चोट भी आई, लेकिन किसी को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा। सुरिंदर चौधरी ने कहा कि हमें अपने भाई पर गर्व है, जिन्होंने लोगों की जान बचाने के लिए अपनी जान दे दी और आतंकियों के मंसूबे को कामयाब नहीं होने दिया।

बता दें कि इस हमले में कुल पांच जवान शहीद हुए हैं, जिनमें दो जेसीओ भी शामिल हैं। इनके अलावा एक जवान के पिता की भी इस हमले में मौत हुई है और कुछ लोग घायल भी हुए। सेना ने सभी चार आतंकियों को मार गिराया, उनके शव के पास से जैश के झंडे मिले थे। हालांकि, सेना अभी भी क्लियर ऑपरेशन चला रही है, जो आज खत्म होगा।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news