Home Top News Latest And Trending Updates Of Sohrabuddin Encounter Case

बीजिंग: सुषमा स्वराज ने किर्गिजस्तान के विदेश मंत्री से मुलाकात की

अमरेली: SP जगदीश पटेल को CID क्राइम ने पूछताछ के लिए हिरासत में लिया

VHP अध्यक्ष कोकजे बोले- राम मंदिर पर हमारे पक्ष में आएगा फैसला

वेंकैया नायडू ने CJI के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव के नोटिस को खारिज किया

आज महाभियोग प्रस्ताव खारिज होने को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी कांग्रेस

सोहराबुद्दीन एनकाउंटर केस: जज बीएच लोया की संदिग्ध मौत का मामला “गंभीर”

Home | Last Updated : Jan 12, 2018 02:30 PM IST
  • SC ने फडणवीस सरकार को दिए सभी दस्तावेज पेश करने के आदेश
   
Latest and Trending Updates of Sohrabuddin Encounter Case

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

आज सुप्रीम कोर्ट सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर केस की सुनवाई कर रहे सीबीआइ के विशेष जज बीएच लोया की मौत की जांच संबंधी याचिका पर सुनवाई कर रही है। कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार से जज की पोस्टमार्टम रिपोर्ट मांगी है। कोर्ट का कहना है कि यह मामला काफी गंभीर है। अब इस मामले में सोमवार को सुनवाई होगी। कोर्ट ने फडणवीस सरकार से इस मामले से संबंधित सभी दस्तावेजों को सोमवार को पेश करने के लिए कहा है।

 

 

जज लोया की एक दिसंबर, 2014 को मौत हुई थी। महाराष्ट्र के पत्रकार बीआर लोन ने उनकी मौत की जांच कराने के लिए शीर्ष अदालत में याचिका दायर की है। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एएम खानविल्कर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ ने बीते गुरुवार को इस याचिका पर शीघ्र सुनवाई के अनुरोध को स्वीकार कर लिया था।

 

 

याचिका में कहा गया है कि सोहराबुद्दीन मुठभेड़ के संवेदनशील मामले की सुनवाई कर रहे जज लोया की रहस्यमय मौत की निष्पक्ष जांच की जरूरत है। इस मामले में कई पुलिस अधिकारियों और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को पक्षकार बनाया गया था।

 

 

बता दें कि जज लोया एक दिसंबर, 2014 को नागपुर में अपने सहकर्मी की बेटी की शादी में शामिल होने गए थे। वहीं हार्ट अटैक के कारण उनकी मृत्यु हुई थी। यह मामला तब सुर्खियों में आया जब पिछले साल नवंबर में लोया की बहन ने इसे सोहराबुद्दीन केस से जोड़ते हुए उनकी मौत की परिस्थितियों पर शक जाहिर किया।

 

 

गुजरात में 2005 में सोहराबुद्दीन शेख, उसकी बीवी कौसर बी और उसके दोस्त तुलसीराम प्रजापति की तथाकथित फर्जी मुठभेड़ में मौत के मामले में पुलिस अधिकारियों समेत 23 आरोपियों के खिलाफ सुनवाई चल रही है। इस मामले को बाद में सीबीआइ को स्थानांतरित कर दिया गया और केस की सुनवाई भी मुंबई शिफ्ट कर दी गई थी।


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...