Home Top News Lack Of Arrangements In BRD Hospital Of Gorakhpur Leads To Death Of 63 People

गुड़गांव: सेक्टर 9 में अपहरण की कोशिश मामले में 2 आरोपी गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर की सीएम और डिप्टी सीएम ने किया करगिल का दौरा

सपा के पूर्व नेता अशोक वाजपेयी और स्वेता सिंह बीजेपी में शामिल

राजस्थान: चित्तौड़गढ़ से 8 लाख के अमान्य नोटों के साथ 2 लोगों की गिरफ्तारी

लुधियाना सिटी सेंटर घोटाले में विजीलेंस ब्यूरो से CM अमरिंदर सिंह को क्लीन चिट

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood

गोरखपुर: पांच दिनों में 32 बच्चों समेत 63 की मौत  

Home | 12-Aug-2017 10:24:20 AM
            
   rising news official whatsapp number +91-7080355555

Lack of Arrangements in BRD hospital of Gorakhpur leads to death of 63 people

दि राइजिंग न्यूज़

लखनऊ। 

 

मात्र 69 लाख रुपये के बकाए को लेकर गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज को ऑक्सीजन की सप्लाई देने वाली फर्म ने अपने हाथ खड़े कर दिए थे। इसके चलते लिक्विड ऑक्सीजन प्लांट में गुरुवार को गैस खत्म हो गई तो जंबो सिलेंडरों और अम्बू बैग से मरीजों की जान बचाने की कोशिश होती रही लेकिन शुक्रवार की शाम तक 24 मासूम जान से हाथ धो बैठे। 

इनमें 14 मासूम इंसेफेलाइटिस वार्ड और 10 एनएनयू (न्यू नेटल यूनिट) में भर्ती थे। छह और गंभीर रोगियों की मौत हुई है। इस घटना के बाद प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया। कमिश्नर अनिल कुमार ने मोदी इंपीरियल के मालिक को फोन करके 205 ऑक्सीजन सिलेंडर मंगवाया, तब जाकर कुछ स्थिति सामान्य हो सकी।



बीआरडी मेडिकल कॉलेज में लिक्विड ऑक्सीजन की सप्लाई को लेकर खींचतान काफी दिनों से चल रही थी। इसे लेकर सप्लाई देने वाली फर्म पुष्पा सेल्स की ओर से कई बार मेडिकल कॉलेज प्रशासन को नोटिस भी भेजा गया था।



हर बार सप्लाई ठप करने की चेतावनी दी जाती थी। इसके बाद भी फर्म का बकाया चुकाने को लेकर गंभीर प्रयास नहीं किए गए। नतीजतन बृहस्पतिवार को मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन का संकट खड़ा हो गया।



आधी रात को सप्लाई बंद हुई तो 50 के करीब मरीज बेहोशी की हालत में जा पहुंचे। यह हाल देखकर मौके पर तैनात डॉक्टरों के हाथ-पांव फूलने लगे। जिम्मेदारों ने ऑक्सीजन की व्यवस्था के लिए जोर आजमाइश शुरू कर दी, लेकिन इससे पहले मामले में बरती गई लापरवाही की कीमत 48 जिंदगियों को खोकर चुकानी पड़ी।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

HTML Comment Box is loading comments...
Content is loading...

 

संबंधित खबरें


 
 
What-Should-our-Attitude-be-Towards-China

 

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

 

 

 

Flicker News


Most read news

 

Most read news

 

Most read news

खबर आपके शहर की