Happy Birthday Haryanvi Sensation Sapna Chaudhary

दि राइजिंग न्‍यूज

जयपुर।

 

राजस्थान के विधानसभा उपचुनाव में हार के बाद भारतीय जनता पार्टी ने दिसंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव की जीत का फार्मूला तलाशना शुरू कर दिया है। करीब 45 सीटों पर महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले मीणा वोटरों को साधने के लिए मीणा नेता डॉ. किरोड़ी लाल मीणा को बीजेपी में शामिल कर लिया है। इसके साथ ही राज्यसभा का टिकट भी थमा दिया है।

किरोड़ी लाल मीणा ने अपनी राष्ट्रीय जनतांत्रिक पार्टी (राजपा) का विलय बीजेपी में कर दिया है। किरोड़ी लाल को बीजेपी में शामिल करने के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और बीजेपी के आला नेता रविवार को जयपुर में बीजेपी के दफ्तर पहुंचे।

बता दें कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और किरोड़ी लाल के बीच छत्तीस का आंकड़ा रहा है। यही वजह है कि वसुंधरा सरकार में मंत्री रहते हुए किरोड़ी लाल मीणा ने 10 साल पहले बीजेपी छोड़कर अपनी अलग पार्टी बना ली थी।

बीजेपी अध्‍यक्ष शाह ने की पहल

बताया जा रहा है कि उपचुनाव में हार के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मीणा को बीजेपी में लाने के लिए पहल की है। राजस्थान में करीब 45 सीटों पर एसटी कैटेगरी के लोगों का दबदबा है। इसमें से करीब 29 विधानसभा क्षेत्रों में मीणा समाज नंबर वन है। पिछली बार मोदी लहर में भी किरोड़ी लाल मीणा की राजपा 134 सीटों पर चुनाव लड़कर चार सीटें जीती थीं। माना जा रहा था कि करीब 45 सीटों पर किरोड़ी लाल मीणा की वजह से कांग्रेस की हार हुई थी।

बता दें कि राजस्थान की राजनीति में किरोड़ी लाल मीणा की घर वापसी तीसरे मोर्चे के संभावना को खत्म होने की तरह से देखा जा रहा है। किरोड़ी लाल पांच बार विधायक रहे हैं और दो बार सांसद रहे। ये राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के करीबी माने जाते हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement