Home Top News Karnataka Election 2018: Amit Shah Will Do Roadshow In Siddaramaiah Constituency

पाकिस्तान ने ईद की छुट्टियों के दौरान भारतीय फिल्मों के प्रसारण पर रोक लगाई

मुजफ्फरनगरः दूध पिलाती मां और बेटी को सांप ने काटा, दोनों की मौत

कर्नाटकः विधानसभा पहुंचे प्रोटेम स्पीकर

कर्नाटकः पुलिस कमिश्नर भी विधानसभा पहुंचे, अंदर भारी सुरक्षा व्यवस्था

कनाडाः भारतीय रेस्तरां में धमाका, CCTV फुटेज में दिखे 2 संदिग्ध

कर्नाटक: प्रचार के आखिरी दिन BJP-कांग्रेस झोंकेगी ताकत

Home | Last Updated : May 10, 2018 10:24 AM IST

Karnataka Election 2018: Amit Shah will do Roadshow In Siddaramaiah Constituency


दि राइजिंग न्यूज़

बंगलुरु।

 

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के प्रचार का आज अंतिम दिन है। चुनाव के मद्देनज़र बीजेपी-कांग्रेस एक-दूसरे पर ताबड़तोड़ हमले कर रही हैं। ऐसे में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया की बादामी विधानसभा में रोड शो करेंगे। इसके अलावा केंद्रीय मंत्रियों समेत बीजेपी के 23 बड़े नेता कर्नाटक के अलग-अलग हिस्सों में रोड शो करेंगे। इन नेताओं में निर्मला सीतारमन, अनंत कुमार, पीयूष गोयल और धर्मेंद्र प्रधान शामिल हैं।

बादामी में शाह और येदियुरप्पा की रैली

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा के साथ बदामी में चुनाव प्रचार करेंगे। उनके रोड शो के लिए बीजेपी ने सारी तैयारियां कर ली हैं। आपको बता दें कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया बादामी से ही चुनाव लड़ रहे हैं।

 

राहुल गांधी करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बंगलूरू में सिद्धारमैया के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। आपको बता दें कर्नाटक चुनाव के लिए राहुल गांधी ने खूब रैलियां की हैं। इस दौरान बीजेपी के प्रति उनका आक्रामक रवैया चर्चा का विषय रहा।

पीएम मोदी नमो ऐप से करेंगे संवाद

पीएम मोदी आज कर्नाटक में कोई रैली नहीं करेंगे। वह नमो ऐप के जरिये SC/ST/OBC और स्लम मोर्चा के कार्यकर्ताओं से संवाद करेंगे। वह इससे पहले भी नमो ऐप के जरिए किसान कार्यकर्ता, महिला कार्यकर्ता, बीजेपी उम्मीदवारों के साथ संवाद कर चुके हैं।

 

राहुल जैसे अपरिपक्व नामदार को पीएम स्वीकार नहीं करेगा देश: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी द्वारा सार्वजनिक रूप से प्रधानमंत्री पद की महत्वाकांक्षा जाहिर करने के लिए बुधवार को उनकी कड़ी आलोचना करते हुए हैरानी जताई थी कि क्या देश कभी कांग्रेस अध्यक्ष जैसे “अपरिपक्व और नामदार” नेता को इस पद पर स्वीकार करेगा।

राहुल को गठबंधन में यकीन नहीं

पीएम ने भाजपा विरोधी मोर्चा बनाए जाने की कोशिशों का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें सत्ता से हटाने के लिए बड़ी-बड़ी बैठकें हो रही हैं जिनमें एक से बढ़कर एक दिग्गज नेता शामिल हो रहे हैं, लेकिन उन्हें अंधेरे में रखते हुए राहुल ने अपनी महत्वाकांक्षा सार्वजनिक कर दी। क्या इससे यह पता नहीं चलता कि गठबंधन में उनका यकीन ही नहीं है?

 

कांग्रेस ने कर्नाटक चुनाव जीतने को अपना लिए हैं सभी अनैतिक तरीके: अमित शाह

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने बुधवार को कांग्रेस को कर्नाटक में कथित रूप से हजारों नकली वोटर कार्ड मिलने पर घेरा। उन्होंने दावा किय राज्य में सत्ताधारी पार्टी ने विधानसभा चुनावों में हेराफेरी करने के लिए नकली वोटर तैयार किए हैं, क्योंकि वह यह समझ चुकी है कि उसकी सत्ता का अंत हो रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव जीतने के लिए सभी अनैतिक और गैर लोकतांत्रिक तरीके अपना लिए हैं।

सोते-जागते पीएम बनने का सपना देख रहे राहुल: मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी द्वारा सार्वजनिक रूप से प्रधानमंत्री पद की महत्वाकांक्षा जाहिर करने के लिए बुधवार को उनकी कड़ी आलोचना करते हुए हैरानी जताई कि क्या देश कभी कांग्रेस अध्यक्ष जैसे “अपरिपक्व और नामदार” नेता को इस पद पर स्वीकार करेगा।

 

कर्नाटक में चुनाव प्रचार खत्म होने से एक दिन पहले बांगरपेट और चिकमगलूर में रैलियों में कांग्रेस पर हमले की धार को तेज करते हुए मोदी ने कहा कि राहुल को लगता है कि प्रधानमंत्री की कुर्सी एक परिवार के लिए आरक्षित है और कोई दूसरा उस पर बैठ ही नहीं सकता है। वे इसे अपन पैतृक हक समझते हैं। उन्हें न तो पार्टी की परंपरा की परवाह है और न ही वरिष्ठ नेताओं और देश का ख्याल है। सुबह से लेकर शाम तक और सोने से लेकर जगने तक उनके दिमाग में सिर्फ पीएम की कुर्सी घूमती रहती है।

कर्नाटक चुनाव में 1.5 लाख सुरक्षा बल तैनात होंगे

वहीं राज्य में 12 मई को होने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान के लिए करीब 1.5 लाख सुरक्षा बल तैनात किए जाएंगे। एक अधिकारी ने बताया कि इसमें 50 हजार से अधिक केंद्रीय अर्धसैनिक बलों को जवान भी शामिल होंगे।

 

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दक्षिणी राज्य में होने वाली चुनाव प्रक्रिया के दौरान कड़ी निगरानी रखने व शांति सुनिश्चित करने के लिए सीआरपीएफ, बीएसएफ और आईटीबीपी जैसे अर्द्धसैनिक बलों से करीब 520 कंपनियों को तैनात करने का फैसला किया है। 224 सदस्यों वाली विधानसभा के लिए राज्य के करीब 4.96 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। राज्य में 56,600 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...