Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

गुजरात के दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने भारतीय जनता सरकार पर जमकर हमला बोला। मेवाणी ने दिल्ली में प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि क्या दलितों को शांतिपूर्ण रैली का हक नहीं है। दलितों पर लगातार हो रही हिंसा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी जुबान खोलें। केंद्र सरकार दलितों पर अपना रुख स्पष्ट करें।

 

इससे पहले मेवाणी ने ट्वीट करते हुए यह जानकारी दी थी कि वो आज दिल्ली आ रहे हैं, भीमा-कोरेगांव हिंसा और खुद पर लगे आधारहीन आरोपों पर वह प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। उन्होंने लिखा, "दिल्ली में 1 बजे प्रेस क्लब में भीमा-कोरेगांव हिंसा और अपने पर लगे आरोपों का जवाब दूंगा।"

मुंबई पुलिस की ओर से मेवाणी को रैली की इजाजत नहीं मिलने के बाद जिग्नेश और जेएनयू के छात्रनेता उमर खालिद के समर्थकों ने जमकर प्रदर्शन किया। ये दोनों नेता बतौर वक्ता छात्र भारती के कार्यक्रम में शामिल होने वाले थे। इसके बाद पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया।

 

इससे पहले भीमा-कोरेगांव हिंसा के मामले में महाराष्ट्र पुलिस ने जिग्नेश मेवाणी और जेएनयू के छात्रनेता उमर खालिद पर केस दर्ज कर दिया। दोनों पर हिंसा भड़काने का आरोप है। दोनों पर सेक्शन 153(A), 505, 117 के तहत पुणे में एफआईआर दर्ज की गई है। इन दोनों पर पुणे में हुए कार्यक्रम के दौरान भड़काऊ भाषण देने का आरोप है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement