Actress Jaya Bachchan Slams on Fan For Clicking Images

दि राइजिंग न्यूज़

पटना।

पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव के नतीजे आ गए हैं। जेडीयू ने एबीवीपी को पटखनी देते हुए अध्यक्ष पद पर कब्जा जमा लिया है। बाकी के तीन पदों पर एबीवीपी को जीत मिली है। बता दें कि पिछले दो साल से अध्यक्ष पद एबीवीपी के पास था। जेडीयू के मोहित प्रकाश ने अध्यक्ष पद पर कब्जा किया तो वहीं एबीवीपी की अंजना सिंह ने उपाध्यक्ष पद पर विजय हासिल की। एबीवीपी के मणिकांत मणि ने मुख्य सचिव पद पर और राजा रवि ने संयुक्त सचिव पद पर जीत हासिल की है।

प्रशांत किशोर पर लगा धांधली का आरोप

एबीवीपी ने प्रशांत किशोर पर धांधली का आरोप लगाया है। एबीवीपी का आरोप है कि प्रशांत किशोर ने धन और बाहुबल के इस्तेमाल से अध्यक्ष पद पर जेडीयू को जीत दिलाई है। बता दें कि पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव के लिए बुधवार को वोट डाले गए थे। पटना यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के लिए 20 हजार से ज्यादा मतदाताओं के लिए 46 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इस चुनाव में सेंट्रल पैनल के पांच पदों के लिए कुल 43 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होना था। उल्लेखनीय है कि पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ को लेकर बिहार का सियासी पारा भी चढ़ा हुआ था। इस बार पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में शुरू से ही एबीवीपी और जेडीयू के बीच टक्कर थी। चुनाव में मुख्य मुकाबला बीजेपी बनाम जदयू उम्मीदवारों के बीच ही था।

प्रशांत किशोर पर हुआ था हमला

बता दें कि बुधवार को वोटिंग से पहले जेडीयू नेता प्रशांत किशोर पर पटना यूनिवर्सिटी के छात्रों ने हमला बोल दिया था। हमला उस वक्त हुआ था जब प्रशांत किशोर सोमवार को विश्वविद्यालय के कुलपति से मिलने पहुंचे थे। दरअसल, मतदान से पहले प्रशांत किशोर लगातार यूनिवर्सिटी के छात्रों से मुलाकात कर रहे थे। आरोप है कि प्रशांत किशोर जेडीयू उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करने के इरादे से पटना विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. रासबिहारी सिंह से मुलाकात करने पहुंचे थे। प्रशांत किशोर पर हमला करने के दौरान छात्रों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रशांत किशोर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की थी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement