Vicky Kaushal on Pulwama Terrorist Attack befitting answer must be given to Terrorism

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

आयकर विभाग की टीम ने गुरुवार को द क्विंट वेबसाइट के मालिक राघव बहल के नोएडा स्थित घर और दफ्तर पर छापा मारा। यह जानकारी न्यूज़ एजेंसी के द्वारा प्राप्त हुई है। इनकम टैक्स विभाग की यह कार्रवाई टैक्स चोरी की आशंका पर हुई। बता दें राघव बहल नेटवर्क 18 ग्रुप के संस्थापक रहे चुके हैं और इस वक्त द क्विंट वेबसाइट का संचालन करते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आयकर विभाग की टीम टैक्स से जुड़े दस्तावेजों को खंगालने के मकसद से उनके घर और दफ्तर पर पहुंची है।

रविशंकर प्रसाद का बयान

उधर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने द क्विंट के दफ्तर पर छापेमारी के सवाल कहा कि मुझे देखना पड़ेगा कि वह कौन सा मीडिया हाउस है।  सका कारण क्या है मुझे नहीं मालुम। मेरे ख्याल में हम लोकतंत्र की आज़ादी के पूरे पूरे पक्षधर हैं। हम लोगों ने एमरजेंसी का विरोध किया था। आज लोकतंत्र में मीडिया को आलोचना का पूरा अधिकार है। वो प्रधानमंत्री और सारे वरिष्ठ मंत्रियों की आलोचना करते हैं और सवाल पूछते हैं लेकिन अगर किसी मीडिया हाउस ने कोई भ्रष्टाचार किया है, उसकी जवाबदेही होगी। लेकिन मुझे तथ्यों की जानकारी लेनी होगी।

क्या बोले राघव बहल

द क्विंट के संस्थापक राघव बहल ने कहा - मैं इस मामले को एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया के सामने उठाऊंगा। जब मैं मुंबई में था, तब सुबह इनकम टैक्स के दर्जनों अफसर मेरे घर और द क्विंट दफ्तर पर सर्वे के लिए पहुंचे। हम पूरी तरह से टैक्स चुकाते हैं। हम उन्हें सभी वित्तीय दस्तावेज उपलब्ध कराएंगे। मैने एक अफसर से बात की है और उनसे अनुरोध किया है कि वह किसी भी अन्य मेल और दस्तावेज को न देखें या उठाएं। अगर वो ऐसा करेंगे तो हम विरोध करेंगे। मुझे उम्मीद है कि एडिटर्स गिल्ड इस मसले पर मुझे सपोर्ट करेगा। मैने अफसरों से निवेदन किया है कि वह अपने स्मार्टफोन का दुरुपयोग कर अनाधिकारिक रूप से किसी प्रति की फोटो न लें। मैं दिल्ली के रास्ते पर हूं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement